खरीफ फसल के लिए आगामी 10 दिन महत्वपूर्ण

खरीफ फसल के लिए आगामी 10 दिन महत्वपूर्ण
अभी चिंता का कोई कारण नहीं

नई दिल्ली। देशभर में पिछले एक सप्ताह में वर्षा कम होने के बावजूद खरीफ फसल का चित्र उज्ज्वल है, लेकिन आगामी 10 दिन में मानसून की प्रगति महत्वपूर्ण रहेगी।

कृषि मंत्रालय के उच्चाधिकारी अनुसार, पिछले एक सप्ताह में वर्षा औसत से 19% कम थी, लेकिन आगामी दो सप्ताह में सामान्य से अधिक वर्षा का पूर्वानुमान मौसम विभाग का है।

पिछले दो दिन में मध्य प्रदेश में मानसून के जोर पकड़ने से किसानों को राहत मिली है, फिर भी कर्नाटक के कुछ हिस्सों में वर्षा की कमी है। कुल मिलाकर खरीफ फसल की स्थिति अच्छी है।

देश के विभिन्न उत्पादक राज्यों में चालू खरीफ फसल मौसम के तहत अब तक खरीफ फसलों की बोआई 563.17 लाख हैक्टेयर में हो गई है और बोआई की रफ्तार अनवरत रुप से बढत की ओर अग्रसर है।जबकि पिछले खरीफ फसल मौसम की इसी अवधि में खरीफ फसलों की बोआई 521.80 लाख हैक्टेयर में ही हो पाई थी।जिससे पिछले खरीफ फसल मौसम की तुलना में चालू खरीफ मौसम में अब तक खरीफ फसलों की कुल बोआई 41.37 लाख हैक्टेयर अधिक क्षेत्रों में हो गई है।जिसके तहत धान,दलहन,मोटे अनाज,गन्ना व कपास की बोआई में बढोतरी की रफ्तार कायम है।जिसके तहत बोआई की रफ्तार आगे भी बढत की ओर अग्रसर रहने की उम्मीद बनी हुई है।बहरहाल तिलहनों सहित जूट व पटसन की बोआई रफ्तार पिछड़ती हुई प्रतीत हो रही है।यद्यपि खरीफ फसलों की बोआई आगामी दिनों में बढने की ओर अग्रसर रहने की उम्मीद बनी हुई है।

दरअसल केद्रीय कृषि मंत्रालय की तरफ से चालू खरीफ फसलों मौसम को लेकर 14 जुलाई 2017 तक के जो ताजा आंकड़े प्रस्तुत किए गए हø।जिसके तहत देश भर में चालू खरीफ फसल मौसम के तहत अब तक धान की बोआई 125.77 लाख हैक्टेयर में हो गई है।     

© 2017 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer