रबी फसलों की बोआई को लेकर किसानों को उत्साहित करने का प्रयास

गेहूं का आयात शुल्क 20/25' प्र.श. बढ़ाने पर हो रहा विचार
हमारे संवाददाता
चालू रबी फसलों की बोआई को लेकर देश भर के उत्पादक राज्यों के किसान सुसज्य हो रहे हø।ऐसे में मोदी सरकार की तरफ से किसानों को उत्साहित करने को लेकर गेहूं पर आयात शुल्क 10 प्रतिशत से बढाकर 20/25 प्रतिशत करने को लेकर विचार विमर्श हो रही है ताकि गेहूं के सस्ते आयात को हतोत्साहित किया जा सकेगा।
दरअसल देश भर के किसानों की तरफ से चालू रबी फसल मौसम के तहत गेहूं की बोआई करने को लेकर सुसज्य है और अब गेहूं की बोआई करने की सुगबुगाहट हो गई है।जिससे गेहूं बोआई करने वाले किसानों के मद्देनजर गेहूं का आयात शुल्क बढाने के बारे में कई बार विचार विमर्श हुआ है।जिसके तहत मोदी सरकार की तरफ से गेहूं का आयात शुल्क बढाने को लेकर गंभीरता पूर्वक अंतिम दौर का विचार विमर्श हो रहा है।जिससे इस नीतिगत फैसले को यथाशीघ्र अमल में लाए जाने की उम्मीद है।जिससे कि देश के गेहूं किसानों की समय रहते हाøसला अफजाई हो सकेगी और गेहूं की बोआई अधिकाधिक क्षेत्रों में करने को लेकर उन्मुख हो सकेंगे।
वैसे तो इस समय गेहूं की वैश्विक कीमतों में मंदी छाई हुई है।जिससे गेहूं का आयात शुल्क को उसी के अनुरुप तय किया जाएगा।जिसको लेकर मोदी सरकार की तरफ से इस वर्ष मार्च में गेहूं की 9.83 करोड़ टन की रिकार्ड पैदावार को देखते घरेलू बाजार में भारी गिरावट को रोकने को लेकर गेहूं पर 10 प्रतिशत आयात शुल्क लगा दिया गया था।ऐसे में अब देश भर के किसानों को गेहूं की बोआई करने को लेकर नीतिगत कदम उठाए जाने है ताकि चालू रबी फसल मौसम में गेहूं की सर्वाधिक बोआई करने का मार्ग प्रशस्त हो सकेगा।

© 2017 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer