प्रीमियम काटन शर्टिंग में विदेशी ब्राण्डों का आकर्षण बढ़ा

यार्न डाइड शर्टिंग्स में बिकवाली
विगत सप्ताह के दौरान खरमास, कुमूहुर्त, नार्थ में तीव्र ठंडी, साउथ में पेंगल वैकेशन, तीव्र आर्थिक संकट से मुंबई कपड़ा बाजार में ग्राहकी सुस्त रही है। कच्ची सामग्री का भाव बढ़ने से वीवर्स ग्रे कपड़े का ऊंचा भाव कोट कर रहे है लेकिन ऊंचे भाव पर ग्राहकी स्थिर है। अब सोमवार से ग्राहकी चलने की आशा है और 1 फरवरी से बजट और ई-वे बिल के कारण दो नंबर का कामकाज बंद हो जाने की संभावना है और ई-वे बिल की प्रक्रिया के कारण एकाध-दो महीना धंधे में रुकावट रहेगी, ऐसा माना जा रहा है।
शेयर बाजार में तेजी जैसे-जैसे बढ़ती जाएगी वैसे ही कपड़ा बाजार में आर्थिक संकट बढ़ता जाएगा। मार्केट पेमेन्ट मानक बहुत खराब हो गए है ।  मुंबई के पेमेन्ट अभी समय पर या दो-चार दिन आगे-पीछे हो जाता है। अहमदाबाद में काटन ग्रे का मानों 60 से 90 दिन, रेयान का 90 से 120 दिन और फिनिश्ड कपड़े का 100 दिन बाद हो गया है। इस समय पेमेन्ट देने वाली पार्टी अच्छी मानी जाती है ।
दुबई जो अब तक महत्वपूर्ण ट्रेडिंग सेंटर था और वहां कोई कराधान नहीं था। अब दुबई में 5 प्र. श. जीएसटी आ गई है। इससे वाया विरमगाम की तरह भारत का माल वाया दुबई होकर ईरान, इराक, सउदी अरब, मस्कत, शाहजहां आदि देशों में जाता था। अब दुबई में टैक्स आ जाने से भारत से यह माल सीधे अन्य देशों में जाएगा और वाया दुबई होकर माल जाएगा नहीं। इससे ईरान जैसे जिस देश की बøकिंग या करेंसी की समस्या थी वे दुबई हवाला मार्फत चलाते थे उन्हें अब झटका लगा है।
प्रीमियम काटन शर्टिंग्स
प्रीमियम काटन शर्टिंग्स का पिछला एक महीना स्लो गया है लेकिन अब कुमुहूर्त होने से सोमवार से ग्राहकी चलने की धारणा है। सामने 4 महीना सीजन है लेकिन वह भारतीय बाजार में सबसे पुराना ब्राण्ड है। तुर्की के साक्टास ब्राण्ड का फैशन अधिक होने से वह अच्छा चलता है। चीन की लुथाई मिल की लुथाई ब्राण्ड का भाव ऊंचा कोट हो रहा है लेकिन वह स्वीकार्य ब्राण्ड है। मोरारजी-मंधाना का कपड़ा अच्छा होता है। अरविंद मिल का भाव सस्ता होने से वह सबसे अधिक चलता है। रेमण्ड का प्रोडक्ट अच्छा है लेकिन रेमण्ड का अपने रिटेल स्टोरों में बिकने से वह एमबीओ लेता नहीं। एस. कुमार्स (भरूच) का काटन प्रीमियम अच्छा चलता है। रीड एण्ड टेलर जो सूटिंग्स की मिल है उसे प्रीमियम शर्टिंग्स बाजार में पेश किया है। रीड एण्ड टेलर प्रीमियम शर्टिंग्स का भाव ऊंचा है और सीमित सिलेक्शन होने से बाजार में वह कम देखने को मिलता है। 
कागजी ग्रुप की श्रीजी लाइफस्टाइल ने इटली की `अवन्त मोडा' ब्राण्ड बाजार में प्रस्तुत किया है। इसमें गीजा काटन शर्टिंग्स में 58'' पने का क्लासिक प्रिंट, सेमीफार्मल डिजिटल प्रिंट, पैनल प्रिंट, हॉलीडे प्रिंट, स्पोर्ट्स प्रिंट, अंतत: प्रिंट प्रस्तुत किया है। इसके अलावा, परफ्युम फिनिश, एन्टी-स्टेइन फिनिश, रिंकल-फ्री फिनिश, यूवी फिनिश का माल बाजार में पेश किया है।
रेग्युलर शर्टिंग्स
शर्टिंग्स में डोबी की इस समय अच्छी मांग है।
यार्न डाइड शर्टिंग्स में मार्जिन न होने से कोई रुचि नहीं दिखा रहा है। सूल्जर लूम का 40/40 108/72 61'' ग्रे का भाव 78 से 80 रु. और फिनिश का 95 रु. है। इसमें लूम काफी बढ़ जाने से ओवरप्रोडक्शन है। इससे दो-तीन बड़ी मिलों का लाट माल निरंतर बाजार में पेश होते रहता है जो 65 रु. के भाव बिकता है। इसमें लाट के सेल से फ्रेश शर्टिंग्स का बाजार अस्त व्यस्त हो जाता है।
एयरजेट लूम की सूती पापलीन 40/40 132/72 63'' ग्रे का भाव जो 64 रु. था वह बढ़कर 68 रु. हो गया है। यार्न के पीछे कपड़े का भाव बढ़ा है।
प्रिंट की मांग है। लेडीज कुर्ती में पिगमेंट पिंट और प्रोश्यन प्रिंट अच्छा चलता है। इसमें फ्लावर डिजाइन और ज्योमेट्रिक डिजाइन चलती है।
डेनिम का जमाव है। डेनिम की उत्पादक क्षमता जिस गति से बढ़ रही है उस गति से मांग बढ़ी नहीं है। इससे अंतत: डेनिम का 1000 एयरजेट लूम- सूल्जर खूब आया था वह डेनिम के बदले चालू क्वालिटी में कन्वर्ट हो गया है। उल्हासनगर में जींस वॉशिंग की 200 इकाइयां थी। जो प्रदूषण की समस्या के कारण कोर्ट के आदेश से बंद हो गई है । इसमें डेनिम की मांग उतनी घटी है। उल्हासनगर में कामन अफलुअन्ट ट्रीटमेंट प्लांट बैठाने का विचार चल रहा है। फिलहाल बंद पड़े वाशिंग इकाइयों में से एकाध यूनिट राजनेताओं के समर्थन से शुरू हुई हø लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।
रिलायंस की विमल ब्रांड ने टीआर सूýटग्स बाजार में पेश किया है जिसकी अच्छी मांग है। विमल ने चीन के ज्योर्ज्यो गुलानी के साथ टाइअप कर लिया है। चीन का टीआर फøसी सूýटग्स पहले काफी आता था लेकिन भीलवाड़ा- सूरत ने टीआर की हूबहू नकल कर सस्ता माल बाजार में पेश करने से अब टीआर का आयात घट गया है।
आंगड़िया सेवा जोखिम में
आक्ट्राय डय़ूटी और चेक पोस्ट निकल जाने के बाद आंगड़िया सर्विस में तेजी आई है। अहमदाबाद-मुंबई के बीच ट्रांसपोर्ट की डिलिवरी तीसरे दिन मिलती है जबकि आंगड़िया ट्रेन में दूसरे ही दिन आप जहां कहो होम डिलिवरी देते है। इससे ट्रांसपोर्टर्स प्रति किलो 4 रु. चार्ज करते हø जबकि आंगड़िया प्रति किलो 6 रु. चार्ज करते है ।
दो-तीन दिन पूर्व जीएसटी भरे बगैर माल लाने वाले आंगड़ियाओं को अधिकारियों ने पकड़ा है। अब जीएसटी के अलावा ई-वे बिल भी साथ में रखना होगा। इससे आंगड़ियाओं की कठिनाई बढ़ेगी।
उद्योग की हलचल
- बार्सेलोना की ब्रांडेड एपरल ग्रुप पेपे जींस ने अपनी भारतीय इकाइयों को 2000 करोड़ रु. बेचने के लिए निकाला है। पेपे जींस भारत में 1000 ब्रांड मल्टीब्रांड आउटलेट्स तथा 200 फ्रेन्चाइजी स्टोर मार्फत बिकता है। - वेलस्पन इंडिया के एक प्रमोटर्स ने टेक्सटाइल फर्म में का लगभग 5 प्र. श. हिस्सा 350 करोड़ रु. में बेचा है।
- आलोक टेक्सटाइल पर वित्तीय Iणदाताओं का Iण 29519 करोड़ रु. है। यह टेक्सटाइल कंपनी खरीदना चाहते है से कम से कम 51 प्र. श. इक्विटी हिस्सा हस्तगत करना होगा और 5 वर्ष तक शेयर डिलिस्ट नहीं किया जा सकता। अब तक आलोक हस्तगत करने के लिए मात्र दो पार्टियों ने रुचि दिखाई है। इसमें रिलायन्स इंडस्ट्रीज लि. है और कर्मचारियों द्वारा स्थापित किया गया ट्रस्ट है।
- जर्मनी के हेमटेक्सटील फ्रेन्कफर्ट एक्स्पो इस बार 64 देशों में से 2975 प्रदर्शनकारियों ने भाग लिया। इसमें भारत के 393 प्रदर्शनकारी थे। भारत की टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी ने भी इस फेयर में पधारी।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer