सोने की मांग बढ़कर 800 टन पहुंचेगी : डब्ल्यूजीसी

सोने की मांग बढ़कर 800 टन पहुंचेगी : डब्ल्यूजीसी
हमारे संवाददाता
भारत में 2018 में सोने की मांग 800 टन तक पहुंचने की संभावना है।जबकि भारत में पिछले वर्ष सोने की मांग 727 टन थी।यह बात वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के वरिष्ठ अधिकारी की तरफ से कही गई है।जिसके तहत 2020 तक सोने की मांग 900 टन तक पहुंचने की संभावना है।जबकि 2016 की तुलना में 2017 में सोने की मांग 9.1 प्रतिशत बढी थी।हालांकि यह दस वर्ष के औसत से कम थी जो कि 840 टन था।
     वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ऑफ इंडिया के प्रबंधक निदेशक श्री सोम सुंदरम ने कहा कि 2018 के बजट में सोने को लेकर कई सकारात्मक चीजें हø।जिसमें एक व्यापक गोल्ड पॉलिसी के डवलपमेंट और गोल्ड एक्सचेंज का निर्माण जैसी बातें कही गई है।ऐसे में जैसे जैसे नीतिगत उपाय सामने आएंगे हमें उम्मीद है कि 2018 2018 में सोने की मांग 700-800 टन के आसपास स्थिर रहेगी।हालांकि सोने की मांग का  उच्च स्तर 800 टन के लगभग रहेगा।श्री सोम सुंदरम ने शेयर बाजार में कमजोरी के बाद अधिक निवेश सोने की तरफ शिफ्ट करने को लेकर कहा कि स्ट्रैटजिक इनवेस्टर्स तुरन्त रिएक्ट नीं करते हø।यद्यपि शॉर्ट-टर्म इनवेस्टर्स अब सोने में थोड़ी दिलचस्पी दिखा सकते हø।उन्होंने कहा कि मोदी सरकार एसेट क्लास के रुप में सोने की डवलप करने को लेकर कदम उठा रही है।जिससे आगे चलकर सोने के बड़ा इनवेस्टमेंट टूल बनने की उम्मीद है। 

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer