चीन के पोलिएस्टर धागे के आयात पर एन्टी-डम्पिंग डय़ूटी संभव

चीन के पोलिएस्टर धागे के आयात पर एन्टी-डम्पिंग डय़ूटी संभव

कपड़ा उद्योग को राहत देने की कवायद
 
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । केद्र सरकार की तरफ से वाहन तथा अन्य उद्योगों में उपयोग होने वाले चीन के पोलिएस्टर धागे के आयात पर 528 डॉलर प्रति टन का डंपिंग रोधी शुल्क लगाए जाने की संभावना है।चूंकि घरेलू कपड़ा कंपनियों को समान अवसर उपलब्ध कराने तथा सस्ते आयात से बचाने को लेकर केद्र सरकार की तरफ से यह कदम उठाए जाने के आसार हैं।
केद्रीय वाण्ज्यि मंत्रालय की जांच इकाई डंपिंग रोधी एवं संबंद्व शुल्क महानिदेशालय (डीजीएडी) की तरफ से अपनी जांच रिपोर्ट में कहा है कि चीन के सस्ते पोलिएस्टर धागे के आयात से घरेलू कपड़ा उद्योग को बचाने को लेकर डंपिंग रोधी शुल्क लगाना आवश्यकता है।जिसको लेकर डीजीएडी की तरफ से अपनी अधिसूचना में कहा है कि यह प्राधिकरण पांच वर्ष को लेकर चीन के पोलिएस्टर धागे के आयात पर डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की सिफारिश करता है ताकि घरेलू उद्योग कपड़ा उद्योग को नुकसान से बचाया जा सकेगा।इसमें 174 डॉलर से लेकर 528 डॉलर प्रति टन तक डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की सिफारिश की गई है।इस डंपिंग रोधी शुल्क लगाने का अंतिम निर्णय केद्रीय वित्त मंत्रालय करता है।
उल्लेखनीय है कि घरेलू प्रमुख कपड़ा कंपनी जैसे कि एसआरएफ लिमिटेड तथा रिलायंस लिमिटेड की तरफ से चीन के पोलिएस्टर धोग के आयात पर डंपिंग रोधी जांच शुरु करने को लेकर डीजीएडी के समक्ष आवेदन किया था और इस पर डंपिंग रोधी शुल्क लगाने की गुजारिश की गई थी।
एसआरएफ और रिलायंस ने साथ मिलकर डीजीएडी से एक सिलसिले में मांग की थी। उत्पादन लागत से कम भाव पर आयात के चलते घरेलू उद्योग को होनेवाली हानि के अध्ययन के आधार पर एन्टी-डम्पिंग शिकायतों की जांच की जाती है।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer