कपड़ा-परिधान उद्योग-व्यापार में सुधार

कपड़ा-परिधान उद्योग-व्यापार में सुधार
रमाकांत चौधरी 
नई दिल्ली । मोदी सरकार की तरफ से देश में नोटबंदी व जीएसटी जैसे आर्थिक सुधार के कदम उठाए गए थे।जिसके शुरुआती दौर में देश का कपड़ा एवं परिधान उद्योग व्यापार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा था।बहरहाल अब ऐसी स्थिति से कपड़ा एवं परिधान क्षेत्र को उबारने को लेकर मोदी सरकार की तरफ से कई नीतिगत कदम उठाए गए हø और उठाए जा रहे हø।जिससे देश में कपड़ा व परिधान की घरेलू मांग अपेक्षाकृत सुधरी है।वहीं पिछले कुछ अर्से से रुपए की मंदी के चलते कपड़ा एवं परिधान का निर्यात पड़तल लगने लगा है जिससे निर्यात व्यापार भी अपेक्षाकृत सुधर रहा है।,जिससे स्वभाविक है कि अब देश का कपड़ा एवं परिधान उद्योग व्यापार सुधार की राह पर है।जिससे कपड़ा एवं परिधान क्षेत्र में सकारात्मक रुख बन गया है।जिससे इस क्षेत्र में पुन: रोजगार के नए अवसर प्राप्त होने के आसार नजर आ रहे हø।
दरअसल मोदी सरकार की तरफ से नोटबंदी एवं जीएसटी जैसे आर्थिक कदम उठाए जाने के चलते देश का कपड़ा एवं परिधान उद्योग व्यापार उद्योग जगत को शुरुआती दौर में काफी दिक्कत हो रही थी।जिसके परिणामस्वरुप देश का कपड़ा एवं परिधान के उद्योग व्यापार क्षेत्र में मंदी का माहौल बना हुआ था।बहरहाल ऐसी विकट स्थिति पर मोदी सरकार की तिरछी नजर थी और ऐसे में इस क्षेत्र को उबारने को कई नीतिगत कदम उठाए गए हø और उठाए जा रहे हø।जिसके तहत देश के कपड़ा एवं परिधान क्षेत्र को लेकर कौशल विकास के तहत समर्थ स्कीम में 1300 करोड़ रुपए की धनराशि आवंटित की गई थी।जबकि देश के अपैरल व मेडअप्स क्षेत्र को बढावा देने को लेकर बतौर 6000 करोड़ रुपए का विशेष पैकेज दिया गया।इसके साथ ही राज्यों में कपड़ा एवं रेडीमेड वस्त्रों के व्यवसाय को बढावा देने को लेकर विशेष प्रोत्साहन स्कीम प्रस्तुत की गई थी।जिससे पिछले कुछ अर्से से कपड़ा व परिधान क्षेत्र में घरेलू  मांग अपेक्षाकृत सुधरी है।जिससे इस क्षेत्र में अब सकारात्मक रुख बन रहा है।वहीं पिछले कुछ अर्से से रुपए की मंदी के चलते कपड़ा एवं परिधान में निर्यात लागत अच्छी लगने लगी है।जिससे कपड़ा एवं परिधान में घरेलू सहित वैश्विक मांग में सुधार हो रही है।जिससे देश के कपड़ा उद्योग व व्यापार क्षेत्र सुधार की राह पर चल पड़ा है।ऐसे में देश का कपड़ा एवं परिधान उद्योग व्यापार क्षेत्रों में विकास को विशेष रुप से बढावा मिलेगा।जिससे स्वभाविक है कि इस क्षेत्र में रोजगार के अधिक अवसर प्राप्त हो सकेगा।जिससे देश का आर्थिक विकास में इस क्षेत्र का योगदान बढने की उम्मीद परिलक्षित हो रही है।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer