पोस्ट-ट्रेड टेक्नोलाजी के लिए एनएसई का नास्डेक के साथ करार

पोस्ट-ट्रेड टेक्नोलाजी के लिए एनएसई का नास्डेक के साथ करार
मुंबई। कस्टमाइस्ड रियल-टाइम क्लीयरिंग, जोखिम संचालन और सेटलमेंट टेक्नोलाजी के लिए एनएसई ने नास्डेक के साथ करार किया है। इस पोस्ट-ट्रेड एग्रीमेंट के अलावा नास्डेक ने वैश्विक आधार पर प्रोजेक्ट प्राप्त करने के लिए एनएसईआईटी की क्षमता का उपयोग करने का भी करार किया है। दोनों शेयर बाजारों ने लिस्टोंग्स, कार्पोरेट, मार्केट सर्विसेज, डेटा और प्रोडक्ट, प्रोसेस और टेक्नोलाजी में नविनीकरण के लिए मेमोरेन्डम आफ अन्डरस्टøडिंग (एनओयू) या है।
एनएसई की क्लीयरिंग और सेटलमेंट सिस्टम का सथान नेशनल सिक्योरिटीज क्लीयरिंग कार्पोरेशन लि. (एनएससीसीएल) द्वारा संचालित नई पोस्ट-ट्रेड टेक्नोलाजी लेगी। नास्डेक के अत्याधुनिक टेक्नोलाजी वाले वित्तीय ढांचा के उपयोग से एक ही सिस्टम से एसेट क्लास का निपटान होगा। एनएसई के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एक्जिक्युटिव आफिसर विक्रम लिमये ने कहा कि प्रभावशाली जोखिम के संचालन के लिए सतत नया प्रोडक्ट लाना जरूरी है। टेक्नोलाजी सोल्यूशंस में एनएसई हमेशा आगे रहता है। एनएससीसीएल का नास्डेक के साथ गठबंधन होने से पोस्ट डिलीवरी क्षमता बढ़ेगी। नास्डेक की सीईओ और प्रेसिडेन्ट एडिना प्राइडमेन ने कहा कि विश्व के बड़े क्लियरिंग हाउस में एनएसई का समावेश होने से एनएसई के साथ भागीदारी हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer