चुनिंदा खाद्यान्न जिंसों की कीमत भड़कने की आशंका

चुनिंदा खाद्यान्न जिंसों की कीमत भड़कने की आशंका
14 खरीफ फसलों की एमएसपी में भारी इजाफा से
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । आखिरकार काफी जेद्दोजेहाद के बाद केद्र सरकार की तरफ से खरीफ की सभी 14 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) फसल लागत मूल्य की तुलना में डेढ गुना बढाकर किसानों को बड़ी सौगात दी है।जिसके तहत धान के एमएसपी 200 रुपए एवं मूंग के एमएसपी में 1400 रुपए क्विंटल की बढोतरी की गई है।जिसके तहत खरीफ की सभी 14 फसलों की लागत में कम से कम 50 प्रतिशत लाभ जोड़कर एमएसपी घोषित किया गया है।ऐसे में इस फैसले से सरकारी खजाने पर 15000 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा।बहरहाल पिछले कुछ अर्से से देश भर के किसान कृषि उपज के दाम गिरने के चलते परेशानी में रहे हैं और आंदोलित भी रहे है ।ऐसे में केद्र सरकार के इस फैसले से किसानों में कहीं न कहीं उत्साह का संचार अवश्य होगा और उनको अपनी उपज के लाभकारी मूल्य प्राप्त होगा जिससे किसानों की माली हालत दुरुस्त हो सकेगी।
दरअसल मोदी सरकार की तरफ से देश भर के किसानों से किया गया वायदा को बखूबी निभाने को लेकर किसानों की कृषि उपज का डेढ गुना कीमत बढाई गई है।जिसको लेकर केद्र सरकार की तरफ से इस वर्ष के पूर्णकालिक आम बजट में इस वायदे को पूरा करने की बतौर घोषणा की थी।जिसको लेकर प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी की अध्यक्षता में केद्रीय कैबिनेट की आर्थिक मामलों से संबंधित समिति ने 4 जुलाई 2018 को सभी 14 खरीफ फसलों के एमएसपी बढाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई।जिसके तहत सामान्य धान का एमएसपी 200 रुपए बढाकर 1750 रुपए तथा ए ग्रेड धान का एमएसपी 180 रुपए बढाकर 1750 रुपए क्विंटल किया गया है।जबकि कपास (मध्यम आकार का रेशा) का एमएसपी 1130 रुपए बढाकर 5150 रुपए क्विंटल तथा कपास (लंबा रेशा) का एमएसपी 1130 रुपए बढाकर 5450 रुपए क्विंटल कर दिया गया।वहीं खरीफ दलहनों में अरहर का एमएसपी 225 रुपए बढाकर 5675 रुपए,मूंग का एमएसपी 1400 बढाकर 6975 रुपए तथा उड़द का एमएसपी 200 रुपए बढाकर 5600 रुपए क्विंटल कर दिया गया।जबकि खरीफ तिलहनों में मूंगफली का एमएसपी 440 रुपए बढाकर 4890 रुपए,सूर्यमुखी का एमएसपी 1288 रुपए बढाकर 5388 रुपए,सोयाबीन का एमएसपी 349 रुपए बढाकर 3399 रुपए,तेल सफेद का एमएसपी 949 रुपए बढाकर 6249 रुपए तथा तिल काला का एमएसपी 1827 रुपए बढाकर 5877 रुपए क्विंटल किया गया है।वहीं मोटे अनाज में ज्वार हाईब्रिड का एमएसपी 730 रुपए बढाकर 2430 रुपए, ज्वार मालदंडी का एमएसपी 725 रुपए बढाकर 2450 रुपए,बाजरा का एमएसपी 525 रुपए बढाकर 1950 रुपए,रागी का एमएसपी 997 रुपए बढाकर 2897  रुपए तथा मक्का का एमएसपी 275 रुपए बढाकर 1700 रुपए क्विंटल किया गया है।    वैसे तो खरीफ विपणन मौसम 2017-18 में अनाज उत्पादन 279.51 करोड़ टन होने का अनुमान है जो कि यह एक नया कीर्तिमान होगा।ऐसे में एक तरफ अनाज उत्पादन बढने से चीनी व दलहनों की कीमत में नरमी रहेगी।वहीं दूसरी तरफ चुनिंदा खाद्यान्न जिंसों की कीमतें भड़कने की आशंका बलवती होगी।
इसीबीच प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी ने कहा कि सरकार ने किसानों को उनकी उपज की लागत का डेढ गुना एमएसपी देने का अपना वादा पूरा किया है।उन्होंने कहा कि सरकार कृषि क्षेत्र के विकास को लेकर पूरी तरह प्रतिबद्व है।उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि मुझे अत्यंत खुशी हो रही है कि किसान भाई बहनों को सरकार ने लागत के डेढ गुना एमएसपी देने का जो वादा किया था आज उसे पूरा किया गया है।फसलों के एमएसपी में इस बार ऐतिहासिक वृद्वि की गई है।सभी किसान भाई बहनों को बधाई।उन्होंने लिखा है कि कृषि क्षेत्र के विकास और किसान कल्याण को लेकर जो भी पहल जरुरी है सरकार उसको लेकर प्रतिबद्व है।हम इस दिशा में लगातार कदम उठाते आए है और आगे भी आवश्यक कदम उठाते रहेंगे।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer