इफ्को और स्पेन के कांगे लैडोस डी नारा के बीच समझौता

पंजाब के किसानों की आय दोगुनी करने की पहल
हमारे संवाददाता
इंडियन फारमर्स फटिलाइजर को-ऑपरेटिव लिमिटेड (इफको) ने खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में कदम बढाए हø।जिसके तहत पंजाब में ग्रीन फील्ड खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगाने को लेकर स्पेन के कांगे लैडोस डी नारा के साथ साझेदारी की है।इसमें विशेष अनुसंधान और विकास केद्र के माध्यम से 5000 से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।
स्पेन की कंपनी कांगे लैडोस डी नारा सब्जियां, फलों, जड़ी-बूटियों और अन्य व्यंजनों से संबंधित कारोबार करती है।यह कंपनी ग्रीन फील्ड खाद्य प्रसंस्करण इकाई की स्थापना को लेकर पंजाब के लुधियाना जिले में 325 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।इस परियोजना को लेकर भूमि की पहचान कर ली गई है।जिसमें दिसम्बर तक काम शुरु होने की उम्मीद है।जिसको लेकर इफको के प्रबंधक निदेशक डॉ.उदय शंकर अवस्थी ने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण के इस क्षेत्र में कदम रखते हुए हमें बहुत खुशी हो रही है।उन्होंने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों को लेकर सीधे किसान से उत्पाद लेकर उनकी आय में वृद्वि करना इस संस्था का उद्देश्य है।उन्होंने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में उतरने से किसानों को आलू,मटर सहित अन्य सब्जियों की बिक्री में सहायता मिलेगी। इफको खाद्य प्रसंस्करण को पूरे देश में ले जाएगी।उन्होंने कहा कि इस खाद्य प्रसंस्करण परियोजना की बदौलत पंजाब में प्रत्यक्ष रुप से 400 और प्रत्यक्ष रुप से 5000 स्थानीय लोगों को नौकरियां पैदा होने की उम्मीद है।जिसको लेकर पंजाब ब्यूरो ऑफ इंडस्ट्रियल प्रमोशन के सीईओ श्री रजत अग्रवाल और इफको के संयुक्त प्रबंधक निदेशक राकेश कपूर ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।वहीं दूसरी तरफ स्पेन की कंपनी की तरफ से कंपनी के महानिदेशक बेरिटो जिममेज ने हस्ताक्षर किए।
 

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer