हिंग इस वर्ष 15-20 प्र.श. हुई महंगी

हिंग इस वर्ष 15-20 प्र.श. हुई महंगी
हमारे प्रतिनिधि
इस वर्ष हिंग की फसल ग्लोबल वार्मिंग के कारण कम उतरी है। एपीएमसी बाजार के अग्रणी आयातक ने कहा कि रुपया की तुलना में डालर भी गत वर्ष के 67 रु. के स्तर से बढ़कर इस वर्ष 71-71.50 रु. होने से कच्ची एवं तैयार हिंग का भाव गत वर्ष की तुलना में 15-20% ऊंचा खुला है।
इस वर्ष तैयार हिंग का थोक भाव गत वर्ष के 1000-3000 रु. की तुलना में लगभग 15 से 20% बढ़कर 1200-3600 रु. हुआ है।
हिंग के उत्पादक केद्रों पर फसल कम होने से हिंगरस का आयात भी गत वर्ष के 700-900 टन की तुलना में 25 से 30% कम होने की संभावना है।
देश में हिंग के तैयार माल का 80,000 से एक लाख टन का व्यापार रहा है। हिंग का भाव मांग पर नहीं बल्कि फसल पर आधारित होने से अब वर्ष के दौरान उसका भाव स्थिर रहने की संभावना है।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer