गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम को फिर से लॉन्च करने की योजना

गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम को फिर से लॉन्च करने की योजना
मुंबई। महत्वाकांक्षी स्वर्ण मुद्रीकरण योजना की सुस्त प्रगति के बाद सरकार अब इसे फिर से लाने की योजना बना रही है।
सूत्रों के अनुसार वित्त मंत्रालय अगले कुछ दिनों में स्वर्ण मुद्रीकरण योजना में कुछ बदलावों की घोषणा कर सकता है। इसके तहत 40 से 50 शहरों की पहचान की गई है, जहां बैंक योजना को बढ़ावा देंगे और स्वर्ण जमा स्वीकार करने के लिए एक निर्दिष्ट शाखा होगी। भारतीय स्टेट बैंक को संभवत: इस योजना के लिए कम से कम 10 शाखाओं को चिह्नित करने को कहा जा सकता है। इस योजना में घरों या अन्य जगहों पर पड़े सोने पर ब्याज कमाने का मौका दिया जा रहा है लेकिन 5 नवंबर, 2015 में शुरू की गई इस योजना के तहत अभी 14.4 टन सोना ही जामा हो पाया है।
वित्त मंत्रालय बैंकों, स्वर्ण परिशोधकों और हॉलमार्किंग प्रतिनिधियों एवं नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के साथ भी बैठकें कर चुका है। बैंकों से इस योजना के तहत सोने की जमा में तेजी लाने को कहा गया है।
बैंककरों को हॉलमार्किंग केद्रों और परिशोधक इकाइयों के साथ करार पर हस्ताक्षर करने को भी कहा गया है।
इस बारे में बैंकों को औपचारिक निर्देश जल्द जारी किए जा सकते है। बैंकों को अपने गोल्ड मेटल Iण पोर्टफोलियो को बढ़ाने को कहा गया है लेकिन बैंकों ने गोल्ड मेटल Iण को अपने कोर बैंककिंग साफ्टवेयर से नहीं जोड़ा है। ऐसे में इसमें समय लग सकता है।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer