एयर इंडिया को उबारने को लेकर पैकेज शीघ्र

हमारे संवाददाता
कोलकाता । सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया को घाटे से उबारने को लेकर कैद्र सरकार ने चार पहलूओं को ध्यान में रखकर पैकेज तैयार कर रही है।जिसमें वित्तीय मदद भी शामिल है।इस पैकेज को शीघ्र ही मंजूरी को लेकर भेजा जाएगा।
केद्रीय विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कलकत्ता चेंबर ऑफ कॉमर्स की वार्षिक आम बैठक में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित कहा कि एयर इंडिया को मजबूत वैश्विक एयरशिइन बनाने को लेकर पैकेज में वित्तीय मदद,पेशेवर संचालन,रणनीति सुदृढ कर प्रतिस्पर्धी बनाना,वर्तमान कार्यबल की स्थिति को मजबूत करना शामिल है।उन्होंने कहा कि एयर इंडिया मजबूत, व्यवसायिक और प्रतिस्पर्धी एयरलाइन बनने के रास्ते पर है।जिसको लेर केद्र सरकार ने इसके रिवाइवल पैकेज पर काम कर रही है और यह पैकेज अंतिम चरण में है।उन्होंने विमान इúधन के दाम बढाने से किराए में हो रही वृद्वि को लेकर कहा कि हवाई टिकटों की कीकमतों पर किसी प्रकार की सीमा लगाने की कोई योजना नहीं है।उन्होंने कहा कि इटानगर के एयरपोर्ट का दिसम्बर में भूमि पूजन हो जाएगा।यह 1200 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस एयरपोर्ट का रनवे 2.2 किलोमीटर का होगा जिस पर बड़ हवाई जहाज भी उतर सकेंगे।इससे अरुणाचल प्रदेश कायाकल्प हो सकेगा।इसके अतिरिक्त उत्तर पूर्व में कई छोटे एयरस्ट्रिप व हेलीपैड है जिन्हें शुरु करने को लेकर प्रोत्साहन दिया जा रहा है।उन्होंने कहा कि नागरिक उड्डयन के क्षेत्र में अगले पांच वर्ष़ों में एक लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।उन्होंने पश्चिम बंगाल के संदर्भ में कहा कि यहां राज्य सरकार के साथ दूसरे एयरपोर्ट के बारे में बातचीत चल रही है।उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की क्षमता में भी बढोतरी की जरुरत बताई।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer