एयर इंडिया की सब्सिडियरी बेचने के लिए मंजूरी

हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । केद्रीय मंत्रियों की समिति की तरफ से एयर इंडिया की ग्राउंड हøडलिंग सब्सिडियरी एयर इंडिया एयर ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड (एआइएटीएसएल) की रणनीतिक बिक्री के प्रस्ताव की मंजूरी दे दी है।
इस समिति की तरफ से सब्सिडियरी को बेचने की मंजूरी ऐसे समय में दी है जब केद्र सरकार लगभग 50,000 करोड़ रुपए कर्ज के बोझ से दबी सरकारी एयरलाइन एयर इंडिया की नॉन कोर असेट को बेचने सहित कई विकल्पों पर विचार कर रही है।जिसको लेकर केद्रीय मंत्रियों की समिति यानि आल्टरनेटिव मैकेनिज्म ने एआइएटीएसएल की बिक्री को लेकर अभिरुचि पत्र आमंत्रित करने के साथ प्राथमिकता सूचना जारी करने को लेकर अनुमति दे दी है।इस सब्सिडियरी को बेचने से प्राप्त होने वाली राशि का इस्तेमाल कर्ज उतारने में किया जाएगा।जिसको लेकर एक अधिकारी की तरफ से कहा गया है कि एयर इंडिया के विनिवेश को लेकर केद्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली की अगुवाई में बनाए गए आल्टरनेटिव मैकेनिज्म ने एआइएटीएसएल की सौ प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने को मंजूरी दी है।जिसको लेकर 27 नवम्बर 2018 को बैठक में श्री जेटली और केद्रीय नागरिक अड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु के अतिरिक्त अन्य अधिकारिये ने हिस्सा लिया।जिसके तहत एआइएटीएसएल को नव गठित स्पेशल परपज व्हीकल (एसपीवी) को ट्रांसफर करने के बाद इसकी बिक्री की जाएगी।

© 2018 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer