एपरल निर्यात सात प्रतिशत बढ़ा

एपरल निर्यात सात प्रतिशत बढ़ा
चेन्नई। काटन यार्न, कपड़ा, मेडप्स, हैडलूम, प्रोडक्ट्स कैटेगरी के अलावा टेक्सटाइल के अन्य कैटेगरी में आने वाली किस्मों का निर्यात फरवरी में घटा है।
मेनमेड यार्न, कपड़ा मेडप्स कैटेगरी का निर्यात फरवरी में 2 प्र.श. घटकर 38.8 करोड़ डालर हो गया है। जो गत वर्ष की समान अवधि में 39.8 करोड़ डालर था। इस प्रकार फ्लोर कवरिंग्स जूट मैन्युफेक्चरिंग में 10 प्र.श. की गिरावट होकर 230 लाख डालर का निर्यात हुआ है, जो फरवरी 2018 में 260 लाख डालर था।
कार्पेट और हैडीक्राफ्ट कैटेगरी प्रत्येक में 3 प्र.श. की कमी दर्ज हुई है। कार्पेट निर्यात घटकर 11.1 करोड़ डालर (11.4 करोड़ डालर) और हैडीक्राफ्ट घटकर 15.1 करोड़ डालर (15.6 करोड़ डालर) हुआ है। कान्फेडरेशन आफ इंडियन टेक्सटाइल इंडस्ट्री (सीआईटीआई) ने बताया है कि एपरल निर्यात फरवरी 2019 में 7 प्र.श. बढ़कर 1.544 अरब डालर (1.44 अरब डालर) हो गया है।
टेक्सटाइल और एपरल का कुल निर्यात फरवरी में 3 प्र.श. बढ़कर 3.094 डालर हो गया है, जो फरवरी 2018 में 2.992 अरब डालर था। अप्रैल-फरवरी 2019 के बीच जूट कैटेगरी के अपवाद को छोड़ दें तो टेक्सटाइल की अन्य सभी कैटेगरी के निर्यात में वृद्धि हुई है।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer