एनबीएफसी क्षेत्र में खिल उठा रोजगार का मौसम

एनबीएफसी क्षेत्र में खिल उठा रोजगार का मौसम
मार्च के अंत तक में 15,000 रोजगार का निर्माण होगा
हमारे प्रतिनिधि
मुंबई। नान बैंककिंग फाइनेंस कंपनी (एनबीएफसी) अपने विभिन्न कामकाज के लिए नई भर्ती कर रही है, जो दर्शाता है कि इस क्षेत्र में तरलता की कमी और पूंजी खर्च में वृद्धि जैसी परेशानियां दूर हो रही है।
वित्त वर्ष 2020 में एनबीएफसी 15,000 लोगों को नौकरी देगी, ऐसा अनुमान रिक्रुट कंपनी टीमलीज का है। महिद्रा फाइनेंस, श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस, पिरामल कैपिटल, आदित्य बिड़ला फाइनेंस, आईआईएफएल, मेग्ना फिनकार्प और युग्रो कैपिटल रोजगार देने में अग्रणी रही है। इन कंपनियों ने रोजगार देना शुरू किया है और वित्त वर्ष 19 का 15% विस्तार सिर्फ मार्च अंत की तिमाही में होने की संभावना है।
टीमलीज के अनुसार, वित्त वर्ष 19 में इस क्षेत्र ने 10,000 से अधिक उम्मीदवारों को नौकरी दी है। महिद्रा फाइनेंस के प्रबंध निदेशक रमेश अय्यर ने कहा कि यह क्षेत्र आगामी कुछ वर्ष़ों में अलग तरह की वृद्धि करेगा और इस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर विस्तार होगा। वित्त वर्ष 20 में कंपनी 1000 रोजगार और 75-100 नई शाखा खोल सकती है।
आदित्य बिड़ला फाइनेंस के राकेश सिंह ने कहा कि आईएलएंडएफएस पेमेंट में डिफाल्ट होने से इस क्षेत्र में संकट पैदा हुआ था। फिलहाल अंडरराइटर्स और रिस्क मैनेजमेंट प्रोफेशनल की मांग है।
टीमलीज के बैंककिंग और फाइनेंस हेड सव्यसाची चक्रवर्ती ने कहा कि आगामी वित्त वर्ष तक इस क्षेत्र में भर्ती होती रहेगी और रोजगार 40-50% बढ़ सकता है। हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां रिटेल Iण बढ़ा रही है जबकि अन्य एनबीएफसी मानव बल में वृद्धि कर इंफ्रास्ट्रक्चर और लाजिस्टिक का विस्तार कर रही है।
पिरामल कैपिटल का कर्मचारी बल वित्त वर्ष 18 के 600 से बढ़कर फिलहाल 1200 से अधिक हुआ है। इसी तरह श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस ने वित्त वर्ष 20 में 2000 लोगों को रोजगार देने की योजना बनायी है तथा 18% विस्तार का लक्ष्य भी कंपनी का है।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer