भाजपा का संकल्प पत्र

लघु कारोबारियों को पेंशन की घोषणा का बीयूवीएम ने किया स्वागत
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । भारतीय उद्योग व्यापार मंडल (बीयूवीएम) ने भारतीय जनता पार्टी की तरफ से लोकसभा चुनाव को लेकर 8 अप्रैल 2019 को जारी किए गए संकल्प पत्र में व्यापार आयोग के गठन और छोटे दुकानदारों को पेंशन की सुविधा दिए जाने के वादे का स्वागत किया है।
बीयूवीएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व भाजपा सांसद श्री श्याम बिहारी मिश्रा एवं बीयूवीएम के चेयरमैन श्री मनोहरलाल कुमार ने कहा कि देश भर के व्यापारियां की तरफ से बीयूवीएम लंबे समय से केद्र सरकार से यह मांग करता आ रहा है कि देश के उद्योग,कृषि और लघु व सूक्ष्म मंत्रालय की तरह ही व्यापारियों एवं लघु उद्यमियों को लेकर भी एक अलग आंतरिक व्यापार मंत्रालय का गठन किया जाए।वहीं कारोबारियों को लेकर एक व्यापार आयोग का गठन एवं उनको लेकर पेंशन की सुविधा भी केद्र सरकार की तरफ दी जाए।जिसको लेकर केद्र सरकार की तरफ से आतंरिक व्यापार मंत्रालय की मांग को पहले ही पूरा कर दिया गया है।अब आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में व्यापार आयोग के गठन एवं व्यापारियों को पेंशन की सुविधा देने का वादा किया है जिससे देश के करोड़ों व्यापारियों की मांग को पूरा करने का प्रयास किया गया है।जिसका बीयूवीएम तहे दिल से पूरजोर स्वागत करता है।
बीयूवीएम के राष्ट्रीय महामंत्री श्री विजय प्रकाश जैन ने बताया कि बीयूवीएम ने हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष श्री अमित शाह सहित देश के प्रमुख राष्ट्रीय दलों को अपना 25 सूत्रीय मांग पत्र दिया था।जिसमें रिटेल व्यापार को लेकर एक राष्ट्रीय व्यापार नीति बनाने,केद्र में प्रथक रुप से एक आतंरिक व्यापार मंत्रालय का गठन,एक रेगुलेटरी अथॉरिटी का गठन एवं ई-कॉमर्स को लेकर एक रेग्यूलेटरी अथॉरिटी का गठन,जीएसटी कर ढांचे का सरलीकरण,देश में एक मॉडल किराया कानून बनाने,मुद्रा योजना में व्यापारियों को आसानी से कर्ज मिल सके जिसको लेकर नॉन बैंककिंग फाइनेंस कंपनी एवं माइक्रो फाइनेंस इंस्टीटय़ूशन को जोड़ना और एक नेशनल ट्रेड बोर्ड फॉर इंटर्नल ट्रेड आदि शामिल है।श्री जैन ने आगे बताया कि बीयूवीएम के चार्टर में यह भी मांग की गई है कि जीएसटी में पंजीकृत प्रत्येक व्यापारी को उत्तर प्रदेश की तर्ज पर 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा,कंप्यूटर खरीदने पर व्यापारियों को सब्सिडी, बैंकों द्वारा व्यापारियों को दिए जाने वाले कर्ज पर चालू ब्याज दर पर 2 प्रतिशत की रियायत एवं 60 वर्ष की आयु से व्यापारियों को पंशन दी जाए।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer