अडाणी पोर्ट्स म्यांमार में स्थापित करेगी पहला कंटेनर टर्मिनल

अडाणी पोर्ट्स म्यांमार में स्थापित करेगी पहला कंटेनर टर्मिनल
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । अडाणी पोर्टृस एण्ड स्पेशल इकोनॉमिक जोन (एपीएसईजेड) देश से बाहर म्यांमार में अपना पहला कंटेनर टर्मिनल स्थापित करेगी।जिस पर 29 करोड़ डॉलर यानि 2000 करोड़ रुपए की लागत आएगी।जिसको लेकर कंपनी ने 23 मई 2019 को म्यांमार के यंगून बंदरगार पर कंटेनर टर्मिनल के विकास एवं परिचालन के करार पर हस्ताक्षर किए।यह परियोजना दो चरण में पूरी की जानी है।इस परियोजना के पहले चरण के निर्माण अगले महीने शुरु होगा और यह जून 2021 में पूरा होगा।जिसको लेकर एपीएसईजेड की तरफ से अपने बयान में कहा गया है कि दो चरणों की कुल परियोजना लागत 27.5 करोड़ डॉलर यानि 29 करोड़ डॉलर बैठेगी।यह निवेश एपीएसईजेड की दक्षिण पूर्व एशिया में अपने पैर पसारने तथा कंटेनर टर्मिनल नेटवर्क के विस्तार की रणनीति का हिस्सा है।जिसको लेकर अडाणी समूह की लॉजिस्टक्स ईकाई एपीएसईजेड की तरफ से कहा गया है कि कंटेनर टर्मिनल का एकीकरण भारत के पूर्वी और दक्षिणी तट पर एपीएसईजेड बंदरगाहों टर्मिनल के साथ किया जाएगा।जिसके तहत बनाओं,चलाओं, स्थानांतरित करो) बीओटी) आधार पर किया गया यह करार 50 वर्ष को लेकर है और इसे दो बार दस-दस वर्ष का विस्तार दिया जा सकता है।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer