रिलायंस जिओ मास्टर प्लान

रिलायंस जिओ मास्टर प्लान
किराना और शाक-भाजी-फ्रूट के व्यापारियों - ग्राहकों को जोड़ रहा
मुंबई। ई-कामर्स में प्रवेश कर रही कंपनी रिलायंस जिओ किराना और शाक-भाजी के व्यापारियों के लिए `बी टू बी' प्लेटफार्म बना रही। `हाई ब्रीड - टू-आफ लाइन' के रूप में पहचान बनानेवाले इस प्लेटफार्म को दूसरे चरण में बी टू बी प्लेटफार्म को माय जिओ एप के साथ जोड़ा जाएगा और यह प्लेटफार्म अंतत: दुकानदार को उसके साथ जोड़ेंगे। सूत्रों ने कहा कि बी टू बी प्लेटफार्म के लिए एक एप डेवलप किया जाएगा, इसके लिए व्यापारियों को जिओ प्राइम का सदस्य बनना होगा। सदस्य बनने के बाद वे एप मार्फत ग्रोसरी, फल और शाक-भाजी का आर्डर प्राप्त कर सकते है।
जिओ प्राइम में दुकानदारों को सप्लायर्स और डिस्ट्रीब्यूटर की तुलना में कम भाव पर प्रोडक्ट्स के अलावा कैस बैक जैसी अन्य आफर्स का लाभ मिलेगा। इसका उद्देश्य यह है कि असंगठित दुकानदार संगठित रिटेलर्स को टक्कर दे सकेंगे। सूत्रों के अनुसार किराने के व्यापारियों का अपने ग्राहकों के साथ अच्छा संबंध होता है, लेकिन भाव के बारे में वे स्पर्धा नहीं कर सकते जिससे जिओ प्राइम प्लेटफार्म उन्हें इसके लिए अवसर प्रदान करेगा। जो व्यापारी जिओ के प्लेटफार्म से जुड़ेंगे उन्हें जिओ मोबाइल के ग्राहकों का संपर्क मिलेगा और उन्हें व्यापारी अपनी दुकान का विस्तृत विवरण और आफर्स भेज सकते है।
यह प्लेटफार्म व्यापारियों को संपूर्ण इन्वेंटरी मैनेजमेंट, जीएसटी के लिए साफ्टवेयर टूल्स आदि पोशा सके उस दर से प्रदान करेंगे, जिससे व्यापारी अपनी पूंजी का बेहतर उपयोग कर सकेंगे। वे प्रमोशनल प्रोग्राम जैसे की रायल्टी कुपन्स आदि भी शुरू कर सकें जो फिलहाल बड़ा संगठित रिटेल क्षेत्र इस प्रकार अपनी विक्री बढ़ा रहा है।
प्रायोगिक स्तर पर यह प्रोजेक्ट मुंबई, पुणे, कोलकाता और अहमदाबाद में चल रहा है। बी टू बी प्लेटफार्म संपूर्णरूप से तैयार होने के बाद रिलायंस जिओ अपने दूसरे चरण में बी टू बी माडल पर ध्यान देगा। माय जिओ एप ग्राहकों को उपलब्ध होने से वे अपने व्यापारी को आर्डर दे सकेंगे।
सूत्रों ने बताया कि ग्राहक नजदीक की किसी भी किराना की दुकान में आनलाइन पेमेंट कर प्रोडक्ट्स का डिलिवरी प्राप्त कर सकेंगे। ग्राहक ऐसे प्रोडक्ट्स का भी आर्डर दे सकते है जो उस समय संबंधित दुकान में उपलब्ध न हो। इस प्रोडक्ट की डिलिवरी ग्राहक को दूसरे दिन मिलेगी।
रिलायंस इन्डस्ट्रीज की जुलाई की वार्षिक सभा में मुकेश अंबानी ने कहा कि वे ई-कामर्स में प्रवेश कर आनलाइन टू-आफ लाइन माडल स्थापित करेंगे।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer