खाद्यतेल हाजिर बाजार में खरीदी का समर्थन कमजोर

खाद्यतेल हाजिर बाजार में खरीदी का समर्थन कमजोर
भाव स्थिर, विदेशी वायदा में भी तेजी
हमारे संवाददाता 
इंदौर। गत् हप्ते सोयातेल भावों में स्थिरता रही हुई। गत् हप्ते लंबे समय बाद विदेशी वायदा बाजार में मलेशियन केएलसीई में जबर्दस्त लगभग 15 पाइंट का उछाला होकर बुर्सा इंडेक्स 1605 से 1620 पाइंट पर बंद हुआ। उधर शिकागो सोयातेल वायदा भी तेजी में 20 पाइंट की तेजी में बंद हुआ । हालांकि इसका असर भारतीय खाद्यतेल बाजार पर नहीं पड़ा। यहां तेल भाव स्थिरता लिये रहे। हालांकि  चीन की अमेरिकन सोयाबीन में खरीदी पुन: होने से सोयाबीन का आगे भविष्य अच्छा बताया जा रहा है। भारत में 3650 रु. आगे भाव नहीं उठने का कारण अब वर्षा का अच्छा दौर शुरू हो गया है और कृषि जगत की खरीफ फसलों के उत्पादन पर शंकाएं खत्म होने से पुरानी सोयाबीन का स्टॉक से आ रहा माल जो वर्तमान भाव पर स्टाकिस्ट निकाल रहे है। अभी वर्तमान दौर में तेलों पर आगे खरीदी से पाव खींचे हुए है बताया जा रहा है। सोयातेल भाव में विगत् हप्ते से 740-742 रु. के भाव पर ही रहा, मूंगफली तेल 1100 रु. पर स्थिर रहा हालांकि कपास्या तेल जरूर उपरी भाव 760 की 750 रु. तक मंद भाव होना बताया जा रहा था। दूध और परवर्ती के नकली उत्पदनों पर अब सरकारी ऐजेंसियों का अब  सरकार और जनता के हित नियोजन में पूरी कड़ाई की भूमिका निभाना चाहिये। सरसों के गत वर्ष के भारी उत्पादन के बावजूद इस वर्ष भाव में राहत नहीं दी है। 
खेरची में सरसों तेल 100-110 रु. किलो है। सोयाबीन की आवक थोक मंडी में सामान्य ही बताई जा रही है। भाव 3200-3570 रु. पर ही क्वालिटी मुजब प्लांटों की खरीदी में थे। इस वर्ष में सोया डीओसी के निर्यात में कोई खास बढ़ोत्तरी नहीं थी उल्टे कम ही हुई और भाव 28000 से 29000 रु. तक बताया जा रहा है। बहरहाल गत् हप्ते इंदौर मूंगफली तेल 1110 से 1110 रु., मुंबई मूंगफली तेल 1075 रु., गुजरात लूज 1100 रु. और राजकोट तेलिया  1690 से 1700 रु. के भाव रहे। इंदौर सोया रिफाइंड  740 से 742 रु., इंदौर साल्वेंट 705 से 710 रु., मुंबई सोया रिफाइंड 738 से 740 रु., मुंबई पाम 590 रु., इंदौर पामतेल 638 रु. के भाव रहे । इंदौर कपास्या तेल 750 रु., सरसों तेल इंदौर 842 रु. और राजस्थान सरसों कच्चीघानी तेल 840 रु. के भाव रहे।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer