बुनियादी ढांचे पर रु.100 लाख करोड़ का होगा निवेश

बुनियादी ढांचे पर रु.100 लाख करोड़ का होगा निवेश
5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । 73 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लालकिला के प्रचीर से प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी ने अपने ओजस्वी भाषण में अर्थव्यवस्था में फैली सुस्ती को लेकर निवेश के माध्यम से आर्थिक वृद्वि की पांच वर्ष के एक सपने को लेकर प्रतिबद्वता जताई। उन्होंने कहा कि सरकार भारत को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य हासिल करने को लेकर बुनियादी ढांचे के विकास पर 100 लाख करोड़ रुपए का निवेश करेगी।
पीएम मोदी ने वैश्विक व्यापार में देश का हिस्सा बढाने को लेकर निर्यात में सुधार लाने पर जोर दिया।इसके अतिरिक्त उन्होंने देश के विकास में उद्योग जगत की भूमिका के महत्व को पुन: रेखांकित करते हुए कहा कि संपत्ति सृजित करने वाले देति की पूंजी है उन्हें संदेह की नजर से नहें देखा जाना चाहिए।
प्रधानमंत्री ने विश्वास जताया कि देश को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य समय से हासिल किया जा सकता है।उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है और राजनीतिक स्थिरता के साथ भरोसेमंद नीतियां भारत में निवेश को लेकर अन्य देशों को आकर्षित करने सहित वृद्वि की उत्प्रेरक बन सकती है।
उन्होंने कहा कि हमने 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य रखा है।कई इसके मुश्किल काम मानते है लेकिन यदि हम कठिन चीजें नहीं करेंगे तो प्रगति कैसी करेंगे? उन्होंने कहा कि हमें 2000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने में लगभग 70 वर्ष लगे और पिछले पांच वर्ष में हमने 1000 अरब डॉलर जोड़ा।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer