कई सरकारी कंपनियों में हिस्सेदारी बेचने की तैयारी

दिवाली से पूर्व बम्पर सेल का आयोजन करेगी सरकार
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । मोदी सरकार की तरफ से दिवाली से पूर्व बंपर दिवाली सेल का आयोजन करेगी।जिसको लेकर केद्र सरकार की तरफ से चार सरकारी कंपनियों में रणनीतिक हिस्सेदारी बेचने की तैयारी की जा रही है।इसके साथ ही केद्र सरकार की तरफ से एयर इंडिया को बेचने की योजना पर भी काम कर रही है।जिसको लेकर सचिवों के एक समूह ने 30 सितम्बर 2019 को भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल),कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (कॉनकोर),शिविंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एससीआई) और भारत अर्थ मूवर लिमिटेड (बीईएमएल) में रणनीतिक सेल की मंजूरी दी है।     
दरअसल भारत अर्थ मूवर लिमिटेड (बीईएमएल) के मामले में जुरुरी मंजूरियां हासिल कर ली गई है।वहीं बीपीसीएल, कॉरकोर व एससीआई से संबंधित प्रस्ताव डिपार्टमेंट ऑफ इंवेस्टमेंट एण्ड पब्लिक एसेट मैनेजमेंट जल्द उस समिति के सामने रखेगा जिसे विनिवेश की मंजूरी देने को लेकर बनाया गया है।मौजूदा वैल्यूएशन पर केद्र सरकार का हिस्सा लगभग 55,000 करोड़ रुपए का हैबहरहाल यदि केद्र सरकार को रणनीतिक निवेशक से कंट्रोल प्रीमियम मिल पाया तो असल में अधिक रकम हाथ लग सकती है।केद्र सरकार को बीपीसीएल में स्टेक सेल से 65,000 करोड़ रुपए तक मिलने की उम्मीद है।इसमें केद्र सरकार का हिस्सा अभी 53.3 प्रतिशत हैऔर इसको लेकर संसद की मंजूरी की जरुरत नहीं होगी।जिसको लेकर इस मामले पर गौर कर लिया गया हैऔर कानून वापस लिया जा चुका है।ससंद को सिर्फ सूचना देने की जरुरत होगी।देश की यह दूसरी सबसे बड़ी पेट्रोलियम उत्पाद रिटेलर का शेयर मूल्य 30 सितम्बर 2019 को बीएसई पर 470 रुपए रहा था।वहीं दो सरकारी पावर कंपनियों  टीएचडीसी और एनईईपीसीओ में स्टेक सेल को भी मंजूरी दी गई।जिसे नेशनल थर्मल पॉवर कॉपोरेशन (एनटीपीसी) खरीद सकती है।जिसको लेकर सरकारी अधिकारियों की तरफ से कहा गया हैकि एयर इंडिया को लेकर एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट भी तैयार कर लिया गया हैऔर इसे शीघ्र जारी किया जाएगा।ऐसे में इसको बेचने की प्रक्रिया शुरु होगी।वहीं इन सरकारी कंपनियों में स्टेक सेल को फास्ट  ट्रैक कर दिया गया है।जिसको लेकर केद्र सरकार ने चालू वित्त वर्ष में निवेश को लेकर 1.05 लाख करोड़ रुपए जुटाने का प्रस्ताव किया है।वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में इसने एक लाख करोड़ रुपए के लक्ष्य से अािधिक राशि हासिल की थी।वित्त वर्ष 2018-19 में इसने 80,000 करोड़ रुपए के लक्ष्य से अधिक रकम हासिल की थी।जिसके तहत एयर इंडिया को लेकर एक्प्रेशन ऑफ इंटरेस्ट को तैयार किया जा रहा है।ऐzसे में केद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता वाली समिति अगले सप्ताह में इसे मंजूरी दे सकती है।जिसको लेकर केद्र सरकार लगभग 30,000 करोड़ रुपए का कर्ज अपने ऊपर लेगी।

© 2019 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer