टेक्सटाइल उद्योग को एक लाख प्रशिक्षित कामगारों की आवश्यकता

हमारे संवाददाता
पानीपत । पानीपत हैडलूम एक्सपोर्ट मैन्युफैक्चर्स एसोसिएशन की तरफ से कहा गया है कि पानीपत के टेक्सटाइल उद्योगों को एक लाख प्रशिक्षित कामगारों की आवश्यकता है।
अपैरल सेक्टर मेडअप होम फनिशिंग उद्योग में मेन पावर की मांग पर सेक्टर 25 स्थित होटल में आयोजित इंडस्ट्रीज मीट में पानीपत हैडलूम एक्सपोर्ट मैन्युफैक्चरिंग एसोLिशन के प्रधान रमेश वर्मा ने कहा कि पानीपत की 90 प्रतिशत उद्योग असंगठित क्षेत्र में लगे हुए है।वहीं 10 प्रतिशत उद्योग संगठित क्षेत्र में लगे हुए है जो कि नियम प्रशिक्षित कामगार के लिए है जिन्हें उद्योग अपनाने में सक्षम नहीं है।वहीं इस बैठक की अध्यक्षता कर रहे हरियाणा ग्रामीण आजीविका मिशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश कृष्ण ने कहा कि युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए पीपीपी मोड में प्रशिक्षण दिया जाएगा।जिसको लेकर उद्यमी युवाओं को प्रशिक्षण देने को लेकर पार्टनर बरन सकेंगे। प्रािशिक्षण पर होने वाले खर्च सरकार वहन करेगी।15 से 35 वर्ष के गामीण युवाओं को स्किल डेवलपमेंट के तहत प्रशिक्षण दिया जाएगा।इस बैठक का उद्देश्य उद्योगों की आवश्यकताओं की जानकारी लेना है। आदमी अपनी जरुरत के तहत युवाओं को प्रािशिक्षण दे सकते है। जिसको लेकर सरकार खर्च करने के लिए तैयार है।इस बैठक में पानीपत एक्सपोर्ट एसोसिएशन के प्रधान ललित गोयल,सेक्टर 29 इंडस्ट्रियल एरिया के प्रधान श्री भगवान अग्रवाल,रोटरी स्पिनर के प्रधान सरकार प्रीतम सिंह, सुरेापायल, सुभाष जैन उद्यमी मौजूद थे।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer