एयर इंडिया में विनिवेश मसौदे को मिली मंजूरी

एयर इंडिया में विनिवेश मसौदे को मिली मंजूरी
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । केद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता वाले मंत्रियों के समूह ने 7 जनवरी 2020 को सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया के विनिवेश की प्रक्रिया को आगे बढाते हुए इसके लिए रुचि पत्र (ईओआई) और शेयर खरीद समझौते के लिए तैयार प्रारुप को मंजूरी दे दी।
दरअसल एक वरिष्ठ अधिकारी की तरफ से कहा गया है कि रुचि पत्र और शेयर खरीद समझौते के इन प्रारुपों को एयर इंडिया के लिए बोली लगाने वालों को लेकर जनवरी में ही जारी किया जाएगा।जिसको लेकर विनिवेश पर गठित मंत्री समूह की इससे पहले की बैठक सितम्ब्र 2019 में हुई थी।जिसको लेकर एयर इंडिया विशिष्ट वैकल्पिक प्रणाली ने पिछले वर्ष एयर इंडिया के लिए विनिवेाि प्रक्रिया को नए सिरे से शुरु करने को मंजूरी  दी थी।इसमें केद्र सरकार की शत प्रतिशत हिस्सेदारी और संयुक्त उद्यम में हिस्सेदारी की बिक्री पेशकश शामिल थी।उल्लेखनीय है क एयर इंडिया का घाटा 2018-19 में 8,556 करोड़ रुपए के आसपास रहा।इसके साथ ही विमानन कंपनी पर कुल कर्ज 80 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गया।ऐसे में विमानन उद्योग के आकलन के तहत एयर इंडिया को रोजाना लगभग 25 करोड़ रुपए का घाटा हो रहा है।जिसको लेकर एयर इंडिया के प्रमुख अश्विनी लोहानी ने इससे पहले 4 जनवरी 2020 को कहा था कि विनिवेश की दिशा में आगे बढ रही एयर इंडिया के बंद होने को लेकर अफवाहें पूरी तरह से निराधार है।यद्यपि उन्होंने कहा था कि एयर इंडिया की उड़ानें जारी रखने के लिए कंपनी की वित्तीय स्थिति वहनीय नहीं रह गई है

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer