सोना का भाव ƒ 40 हजार से ऊपर स्थिर रहने पर रिटेल ग्राहकी होगी स्थगित

सोना का भाव ƒ 40 हजार से ऊपर स्थिर रहने पर रिटेल ग्राहकी होगी स्थगित
नरेद्र जोशी
मुंबई। सोना में तेजी के किसी कारण से आगे बढ़ने से देश में विवाह-शादी के सीजन के समय में रिटेल खरीदी मृत:प्राय बन जाएगी, ऐसा इंडिया बुलियन ज्वेलर्स एसोसिएशन (इबजा) के सचिव सुरेद्र मेहता का मानना है।
उन्होंने आगे कहा कि सोमवार को शेयर बाजारों में आयी गिरावट के बाद सोना का स्थानीय बाजार में भाव 750 रु. उछलकर 41 हजार रु. को पार कर गया था। अमेरिका-ईरान के बीच तनाव बढ़ने पर सोना 45 से 47 हजार रु. प्रति 10 प्राम तक जा सकता है, ऐसी स्थिति में रिटेल ग्राहकी समाप्त हो जाएगी। इस समय 39 हजार रु. के भाव के आसपास सोना की ग्राहकी 15% घट गई है। 40 हजार रु. के उपर सोना के टिके रहने पर रिटेल खरीदी के लिए ग्राहक आगे नहीं आएंगे।
सुरेद्र मेहता ने कहा कि आगामी वैवाहिक मौसम में भारतीय इस भाव पर जो जरूरी खरीदी करेंगे, उसके बजट में भी कटौती कर सकते हø। यदि किसी को 5 तोला सोना लेना होगा तो वह ऊंचे भाव पर कम मात्रा में सोना लेगा। सोना के आउटलूक के बारे में उन्होंने कहा कि यदि सोना 38,000 रु. से नीचे रहेगा तो भावी अच्छा रहेगा। रिटेल ग्राहकी कुछ अधिक रहेगी, लेकिन 40,000 रु. से ऊपर सिर्फ जरूरी खरीदी रहेगी और निवेश के लिए सोने की खरीदी से लोग दूर होंगे।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer