दाल-दलहनों सहित अन्य जिंसों में भी तेजी

हमारे संवाददाता  
इंदौर । राते हल्की ठंड और दिन गर्म होने का मालवा का अहसास बढ़ रहा है ।  माल्स में जनता का आवागमन कमजोर था मगर उधर में थोक मंडियो या डीलर के भाव के मुकाबले भाव में कोई कमी नहीं थी । वहां भाव 30 से 40 प्रतिशत ही भाव उंचे प्रत्येक दाल-दलहन और मसालों में देखने में आऐ है  । गत् हप्ते म.प्र. के कुद कुद हिस्सों में प्रकृतिक प्रकोप अर्थात वर्षा और ओले गिरने की खबरे हे । इससे बाजार में  दाल-दलहनों पर विगत् हप्ते क थ मुकाबले तेजी रही । थोक दलहन मंडी में वायरस के डर से आवके भारी बढ़ गई थी । मंडियों में गाड़ियां रखन की जगह  कम पड़ गई बताया गया । आवक बढ़ने के बावजूद गत् हप्ते दल-दलहनों में तेजी रही । गेहूं की भारी आवको के बीच विगत् हप्ते तक तो एमएसपी से भारी नीचे  के भाव पर भी खरीदी नहीं हो रही थी  मगर गत् इसमें भी अन्य राज्यों की मांग से थोड़ी तेजी का होना बताया जा रहा था । चना और काबुली चना में स्टाकिस्टो की मांग से तेजी रही बताया गया । दालों में भी तेजी की स्थिति थी ।            ना कांटा 3875रु. बढ़कर गत् हप्ते गुरुवार तक तेजी में पुन: 4100 रु. तक होना बताया जा रहा था । वही काबुली चना 5600 से बढ़कर कंटेनर में 5800 से 5900 रु. तक होना बताया जा रहा था । माल संस्कृति में दाल-दलहनों का भाव 130 से 155 रु. किलो तक होना देखा गया है ।  मूंगदाल 125 से 140 रु. था जबकि हाजिर बाजार में भाव 85 से 90 रु. था । उड़द दाल का भाव 150 और हाजिर बाजार में 90 से 100 रु. था और मोगर का भाव 140 से 150 रु. और हाजिर बाजार में 95 से 110 रु. केलो तक होना देखा गया है । थोक भाव और खेरची भाव के इस बेमेल पर सरकारे जांच क्यो नही करती है जिससे आम जनता का कुछ-कुछ भला हो । हालांकि उंचे भाव पर दालों में मांग कमजोर बताई जाने लगी है ।  मसूर और चने में लेवाली कमजोर थी । मसूर भाव मध्यम का  4400 से उतरकर  4300 रु. तक होना बताई जा रही थी । वही मसूर दाल का भाव थोक में 5600 से 5800 रु. तक था और खेरची हाजिर भाव 70 से 75 रु. तक था । ।तुवॉर नई महाराष्ट्र और कर्नाटक तरफ आवक बढ़ने और वहां आई मंदी के बाद पुन: मांग निकलने से 200 रु. तक की तेजी का होना बताया जा रहा था । स्थानीय मंडी में भी भाव तेज होना बताए जा रहे थे । तुवॉर इंदौर मंडी में महाराष्ट्र तुवॉर का भाव 5300 से 5350 रु. और म.प्र. तुवॉर का भाव 4900 से 5200 रु. तक बताई जा ही थी । जबकि तुवॉर दाल का भाव भारी बढ़कर 7500 से 8400 रु. तक होना बताया जा रहा था । तुवॉरदाल फूल का भाव 8500 रु. था । ठंड में मूंग की भारी मांग रहने मूंग भारी उंचा हो जाने के बाद मांग में कमी आने से गत् हप्ते स्थिर भाव पर होना बताया जा रहा था । भाव नया 6800 से 7000 रु. और पुराना का भाव 7500 से 7700 रु. तक होना बताया जा रहा था।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer