हरियाणा के मुख्यमंत्री के साथ गुरुग्राम में चीन व कोरिया के निवेशकों की मुलाकात

चीन व कोरिया के निवेशक हरियाणा में निवेश को इच्छुक
हमारे संवाददाता
गुरुग्राम । वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस का संकट छाया हुआ है।जिसके बावजूद चीन एवं दक्षिण कोरिया के निवेशक हरियाणा में निवेश के इच्छक़ है।जिसको लेकर चीन व दक्षिण कोरिया के निवेशक प्रतिनिधियों ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से गुरुग्राम में मुलाकात की।इन निवेशकें ने हरियाणा सरकार की ईज ऑफ डुइúग बिजनेस से प्रभावित होकर हरियाणा में निवेश करने में रुचि दिखा रहे हैं ।जिसको लेकर निवेशकों ने सिविल लाइन स्थित लोक निर्माण विश्राम गृह में हरियाणा के मुख्यमंत्री से मुलाकात की और अपनी निवेश संबंधी योजनाओं के बारे में जानकारी दी है।इन निवेशकों ने हरियाणा में करोड़ों रुपए के निवेश की इच्छा जताई है।
इस मौके पर हरियाणा के मुख्यमंत्री ने निवेशकों से सवाल किया कि उनकी परियोजनाओं में रोजगार की कितनी संभावनाएं हैं ।जिस पर इलेक्ट्रिक बस व ट्रक बनाने वाली दक्षिण कोरियाई कंपनी एडिशन मोटर्स इंडिया के प्रतिनिधियों ने कहा कि कंपनी 500 करोड़ रुपए से अधिक निवेश के साथ लगभग 30 एकड़ में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने की इच्छुक है।इसमें 800 से अधिक युवाओं के लिए रोजगार  के अवसर सृजित होंगे।वहीं चीन के प्रतिनिािधिमंडल ने कहा कि वह आईटी क्षेत्र में निवेश करना चाहते हैं ।जिनकी कंपनी छह एकड़ में प्लांट लगाना चाहती है।जिसमें लगभग 2000 युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे।चीन की इस कंपनी के सीईओ ने कहा क वह भारत के ईज ऑफ डुइúग बिजनेस से प्रभावित होकर यहां निवेश करना चाहते हैं ।वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री ने चीन व दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधिमंडल को कहा कि हरियाणा में निवेशकों को ईज ऑफ डुइग बिजनेस के तहत अच्छी सुविधाएं दी जा रही है।
इस मामले में हरियाणा देश में तीसरे स्थान पर है।इसके साथ ही हरियाणा के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हम इस विषय में और सुधार करके देश मे पहले स्थान पर आने के लिए प्रयासरत है।उन्होंने कहा कि ईज ऑफ डुइúग बिजनेस के तहत हरियाणा में एक ही छत के नीचे निवेशकों को इकाई स्थापित करनें के लिए सभी प्रकार के अनापत्ति प्रमाणपत्र व सहमति पत्र दिए जा रहे हैं ।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer