इंदौर लॉकडाउन पिरियड मे बाजार बंद खाद्यतेलों पर कोरोना का प्रभाव

इंदौर लॉकडाउन पिरियड मे बाजार बंद खाद्यतेलों पर कोरोना का प्रभाव
शेयर बाजार में भारी उतार चढ़ाव
हमारे संवाददाता
इंदौर । कोरोना वायरस का प्रभाव पूरे विश्व में फैलने लगा है , जिससे कोई 127 देश चपेटे में बताऐ जा रहे है । देश में कोरोना का प्रभाव अधिक न बढे उसके पूर्व ही प्रधानमंत्री ने अपने टीवी प्रसारण के उद्बोधन में 21 दिन का लॉकआएट पिरियड घोषित कर दिया था । प्रशासन ने जनता की दैनंदिनी सुविधा और सप्लाई पर कडी नजर रखते हुए बराबर समय समय पर  जरूरतों को भी पूरा करना जारी रखा है । हांलाकि कुछ क्षेत्रााथ में प्रशासन को लॉकआउट पर कडाई भी करनी पड रही है । इंदौर में कोई 60 लोग कोरोना प्रभावित सस्पेक्ट हुऐ है उनमें तीन की मौत हो गई बताया जा रहा है । तीन जो गुजरे है उनमें एक बुजुर्ग महिला  पेशियंट उज्जैन से इंदौर आयी थी वे नही रही।  अभी प्रशासन पूरी सख्तीके साथ कारोना वायरस से जनता के बचाव में जूझ रहा है । इसी बीच मास्क की कमी की पूर्ति करनेके लिये प्रशासन ने कई मास्क निर्माताओ को बनाने का आर्डर कर दिया है । कई इंड्रस्ट्रि संघठनो ने सेनिटाईजर मास्क का उत्पादन सरकार से अनुमति लेकर करना शुरू कर दिया है । इंदौर की प्रसिद्ध अल्कोहल फेक्ट्री ऐसेसिऐटेड अल्कोहल ने सेनिटाईजर का उत्पादन शुरू कर दिया है खबर पता चली है । 
कोरोना से  संसारभर के शेयर बाजारो का गिरना जारी रहा था । विगत् हप्ते अमेरिकी फायनेंशिल संस्था फेड ने अबतक के सबसे बडे पेकेज अर्थात 151 लॉख करोड का पेकेज आथ्छािक इंडस्ट्रिज का दिया है । इससे विश्वभर के  मंदी की ओर बढ रहे शेयर बाजार में उछाले आने लगे । इधर भारत के केंद्रीय सरकार की ओर से वित्तमंत्री श्रीमति सीतारमण द्वारा लॉकडाउन से  पडा अर्थव्यवस्था असर आने के कारण कोई 1.70 हजार करोड की पेकेज व्यवस्था उत्पादक कारखानो और फायनेंशियल इंस्टीट्शनो को दी है। इससे विगत् हप्ते  से शेयर बाजार उंचाई चढते चले गये मगर गत् हप्ते तक बुधवार तक फिर गिरावट बनने लगी थी।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer