जर्मन कंपनी फुटवेयर का उत्पादन चीन से लाएगी भारत

पहले चरण में 110 करोड़ का निवेश उत्तरप्रदेश में होगा 
नई दिल्ली । वॉन वेल्क्स ब्रांड की जूता बनानेवाली प्रख्यात कंपनी कासा एवरेज ने अपना सभी उत्पादन चीन से भारत लेन का निर्णय लिया हैण् वार्षिक 30 लाख जोड़ी जूता बनानेवाली यह कंपनी शुरुवात में 110 करोड़ रूपये का निवेश करेगीण् प्रतिवर्ष 30 लाख जोड़ी का उत्पादन करने के लिए उत्तरप्रदेश में कारखाना लगाएगी उसके लिए लेट्रिक कंपनी ने राज्य सरकार के साथ समझौता किया हैण् जर्मनी की मशहूर फुटवेयर कंपनी वॉन वेल्क्स चीन से अपना कारोबार समेट कर उत्तर प्रदेश के आगरा में शिफ्ट होने जा रही है। यहां लैट्रिक इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड के साथ करार कर काम करेगी। रिपोर्ट्स के अनुसार, वॉन वेल्क्स स्वास्थ्य के अनुकूल फुटवीयर बनाने वाली एक प्रमुख कंपनी है जो पैरों को आराम देने, घुटने, कमर दर्द और जोड़ों के दर्द से आराम दिलाने वाले जूते बनाती है। 
 जर्मन ब्रांड वॉन वेल्क्स के जूते दुनिया के 80 देशों में करीब 100 मिलियन यानी 10 करोड़ ग्राहकों को बेचे जाते हैं। इस कंपनी को 2019 में लॉन्च किया गया था जिसके प्रोडक्ट अब 500 ज्यादा इलाके की टॉप बाजारों में उपलब्ध हैं। इस कंपनी के प्रोडक्ट ऑनलाइन भी उपलब्ध हैं। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के एमएसएमई राज्य मंत्री उदय भान सिंह ने मीडिया से कहा, 'हम केजा इवर्ज जीम्भ (ॐञथञ अठिज्ञे उणटड्ड) की ओर इस प्रकार के निवेश से बहुत खुश हैं। क्योंकि राज्य के बहुत ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा। यह कंपनी चीन से भारत आ रही है। खासकर उत्तर प्रदेश में। 
वहीं लैट्रिक इंडस्ट्रीज के सीईओ अशीष जैन ने कहा कि इस ब्रांड के कोलैबोरेशन से 10,000 से ज्यादा का प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार पैदा करने में मदद मिलेगी। केजा इवर्ज जीम्भ (ॐञथञ अठिज्ञे उणटड्ड) इस ब्रांड वॉन वेल्क्स के मालिक हैं। उन्होंने सम्पूर्ण प्रोडक्शन को चीन से भारत शिफ्ट करने की योजना बनाई है। हाल में सरकार ने विदेशी निवेश के लिए जो कोशिशें की थीं उस दिशा में यह बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। 
लावा भी चीन से समेट रही है कारोबार 
इससे पहले मोबाइल उपकरण बनाने वाली घरेलू कंपनी लावा इंटरनैशनल ने चीन को बड़ा झटका दिया था। कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि वह चीन से अपना कारोबार समेट कर भारत ला रही है। कंपनी ने सीएमडी ने कहा है कि उनका सपना है कि वह चीन को भारत से मोबाइल निर्यात करें। कंपनी ने अपने मोबाइल फोन डिवेलपमेंट और मैन्युफैक्चरिंग परिचालन को बढ़ाने के लिए अगले पांच साल के दौरान 800 करोड़ रुपये निवेश की योजना बनाई है। 

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer