भारत की आर्थिक स्थिति जितनी मानी जाती है, उतनी खराब नहीं : केवी कामथ

भारत की आर्थिक स्थिति जितनी मानी जाती है, उतनी खराब नहीं : केवी कामथ
मुंबई । भारत की आर्थिक परिस्थिति बहुत से अर्थशास्त्री मानते हैं, उतनी खराब नहीं है, ऐसा विख्यात बैंकर और एशियन डेवलपमेंट बैंक के भूतपूर्व अध्यक्ष केवी कामथ का कहना है। 
एक टीवी चैनल को दिए गए साक्षात्कार में कामथ ने कहा कि परिस्थिति जितनी कही जाती है, उतनी खराब नहीं है। हम मानते थे उसकी तुलना में रिकवरी जल्द आएगी। सीमित यू शेफ रिकवरी आ सकती है। 
सरकार ने जो कदम उठाया है उसका अच्छा असर अर्थव्यवस्था पर हो रहा है, यह कहते हुए कामथ ने सरकार के आत्मनिर्भर भारत अभियान की प्रशंसा की थी। हालांकि थोड़े समय तक तकलीफ रह सकती है। 
कृषि क्षेत्र में तीव्र सुधार हो रहा है ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 सर्जित चुनौतियों का खास असर नहीं पड़ा है। इस क्षेत्र में रोजगार के काफी अवसर है. प्रमुख कंपनियों का कर्ज इतना कम कभी नहीं था। 
आईएमएफ के अनुमान के अनुसार 2020-21 मैं भारत की अर्थव्यवस्था 4.5 प्रतिशत जितनी हो जाएगी। आर्थिक विकास बढ़ाने के लिए सरकार को जो कदम उठाना पड़ेगा, उसके कारण राजकोषीय घाटे में वृद्धि होगी।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer