रिलायंस इंडस्ट्रीज को रु.13,248 करोड़ का शुद्ध लाभ

जियो का मुनाफा 183 फीसदी बढ़ा'
नई दिल्ली। देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 13,248 करोड़ रुपये रहा। कंपनी को हिस्सेदारी बिक्री से हुई असाधारण आय से उसका लाभ बढ़ा है। कंपनी ने बृहस्पतिवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में कंपनी को 10,141 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा कि वह हिस्सेदारी बिक्री से उसे 4,966 करोड़ रुपये की विशिष्ट आय हुई।'
बाजार पूंजीकरण के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस का पहली तिमाही में कुल राजस्व 88,253 करोड़ रुपये रहा। कोविड-19 के असर के बाद रिलायंस जियो, रिटेल और ऑयल टू केमिकल (O2C) बिजनेस का रिजल्ट विश्लेषकों की उम्मीद से बेहतर रहा है। हालांकि, ऑयल टू केमिकल बिजनेस पर मांग कम होने की वजह से असर पड़ा है। ख्रIए की ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन $6.3/टटण् रही। पहली तिमाही में रिलायंस का समेकित मुनाफा 13,248 करोड़ रुपये रहा। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह 10,104 करोड़ रुपये रहा था।'
इस बीच रिलायंस की दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो का शुद्ध लाभ जून तिमाही में लगभग 183 प्रतिशत उछलकर 2,520 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी को पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 891 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। आलोच्य तिमाही के दौरान कंपनी का परिचालन से प्राप्त राजस्व भी 33.7 प्रतिशत बढ़कर 16,557 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी के कुल ग्राहकों की संख्या 30 जून 2020 तक बढ़कर 39.83 करोड़ हो गयी। आलोच्य तिमाही के दौरान प्रति ग्राहक कंपनी का औसत राजस्व 140.3 रुपये प्रति माह रहा'

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer