कोरोना के बढ़ते प्रकोप से कपड़ा-परिधान का थोक कारोबार प्रभावित

कोरोना के बढ़ते प्रकोप से कपड़ा-परिधान का थोक कारोबार प्रभावित
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । कोरोना महामारी के चलते दिल्ली के चांदनी चौक में सभी तरह के कपड़ा सहित दिल्ली के गांधीनगर में सभी तरह के रेडीमेड वस्त्रों के व्यापार-उद्योग मंदीगस्त हो रखा है।जिससे लाजमी है कि ािzक व्यापारियां के समक्ष आर्थिक तंगी उग्र हो रखी है और व्यापारियों व उद्यमियों का हाल बेहाल हो रखा है।ऐसे में  दल्ली के चांदनी चौक थोक कपड़ा बाजार सहित दिल्ली के गांधीनगर थोक रेडीमेड वस्त्र बाजार में अब थोक व्यापारियों को अगले प्रमुख त्योहारों को लेकर सभी प्रकार के कपड़ा-परिधान में थोक ग्राहकी निकलने की बेसब्री से प्रतीक्षा हो रही है।उल्लेखनीय है कि दिल्ली के चांदनी चौक में कपड़ा व गांधीनगर में परिधान उद्योग व्यापार में पांच से छह लाख लोग प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रुप से कार्यरत है।जिनके समक्ष रोटी रोटी की समस्या उत्पन्न हो रखी है।
इस बाबत दिल्ली के गांधीनगर होलसेल रेडीमेड वस्त्र बाजार की अग्रणी संस्था एसोसिएशन ऑफ होलसेल रेडीमेड गारमेंट डीलर्स अशोक बाजार गांधीनगर के अध्यक्ष श्री कंवल कुमार बल्ली ने बताया कि आजकल कोरोना वायरस के बढते प्रकोप के चलते दिसावरी ग्राहकी का स्थानीय थोक रेडीमेड वस्त्र बाजार में आगमन एक तरह से थम हुआ है।जिससे थोक रेडीमेड वस्त्र बाजार में थोक ग्राहकी का सन्नाटा पसर हुआ है।जिससे रेडीमेड वस्त्रों की थोक कारोबारी गतिविधियां चरमरा सी रखी है।ऐसे में अब अगले प्रमुख त्योहारों को लेकर थोक व्यापारियों की रेडीमेड वस्त्रों में दिसावरों की थोक ग्राहकी निकलने की बेसब्री से प्रतीक्षा हो रही है।बहरहाल इस समय रेडीमेड वस्त्र बाजार में सिर्फ दिल्ली-एनसीआर की खुदरा ग्राहकी ही है।जिससे थोक बाजार में कोई खास असर नहीं पड़ रहा है।दिल्ली के गांधीनगर थोक बाजार में दिसावरी ग्राहकी के आगमन होने से थोक कारोबार पर अवश्य असर पड़ता है।वहीं दिल्ली के चांदनी चौक के थोक कपड़ा व्यापारियों की अग्रणी संस्था दिल्ली हिन्दुस्तानी मर्केन्टाइल एसोसिएशन (डीएचएमए) के निवर्तमान अध्यक्ष श्री सुरेश बिन्दल ने बताया कि दिल्ली के चांदनी चौक थोक कपड़ा बाजार में उत्सवों व शादियों पर कपड़ों की मांग सर्वाधिक होती है।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer