डायमंड-ज्वेलरी का सबसे बड़ा वैश्विक व्यापार केंद्र महाराष्ट्र को बनाने के लिए सरकार तत्पर : उद्धव ठाकरे

मुंबई । हम महाराष्ट्र को डायमंड और ज्वेलरी का पहले क्रम का व्यापार केंद्र मात्र भारत में ही नहीं बल्कि विश्व में बनाना चाहते हैं. महाराष्ट्र सरकार इस दिशा में आगे बढ़ने के लिए उद्योग को सभी तरह की सहायता देने के लिए तैयार है, ऐसा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सर्वप्रथम इंडिया इंटरनेशनल ज्वेलरी ऑनलाइन शो का उद्घाटन करने के बाद कहा. जेम्स एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल और जीआइए द्वारा इस वर्चुअल शो का आयोजन किया गया है.''
मुंबई में हम ज्वेलरी पार्क तैयार करने की प्रक्रिया आगे बढ़ा रहे हैं. उसके लिए राज्य सरकार हर प्रकार की सहायता करने के लिए तैयार है और उसके लिए महाराष्ट्रीयन नागरिकों को आपको रोजगार प्रदान करना होगा.''
केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि कोरोना वायरस के खराब दौर में जीजेइपीसी ने अदम्य साहस दर्शा कर टेक्नोलॉजी के माध्यम से इस वर्चुअल अंतरराष्ट्रीय ज्वेलरी शो का आयोजन किया, उसके लिए हमें गर्व है. जीजेइपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा कि इस शो को अभूतपूर्व प्रतिसाद मिल रहा है. आगामी त्योहारों से पहले व्यापार को लाभ होने का हमें पूर्ण विश्वास है.' इस शो में 330 प्रदर्शक, 8000 रजिस्टर्ड खरीददार और 200 विदेशी मेहमानों का समावेश है.''
चीन को दे पाएंगे टक्कर'
पहली बार महाराष्ट्र के किसी मुख्यमंत्री ने महाराष्ट्र को ज्वेलरी व्यापार का सबसे बड़ा केंद्र बनाने की बात कही है. इससे कोरोना संकट के कारण मंद कारोबार से निराश उद्योग में नया उत्साह आया है. यदि मोदी सरकार के साथ महाराष्ट्र सरकार का भी हमें पूरा सहयोग मिलता है तो भारत का जेम्स एंड ज्वेलरी उद्योग इंटरनेशनल मार्केट में चीन को टक्कर देने में सक्षम हो जाएगा क्योंकि चाइना का जेम्स एंड ज्वेलरी उद्योग वहां के सरकार के सपोर्ट से ही आगे बढ़ रहा है और भारत को भी चुनौती दे रहा है. सरकार का सहयोग मिलने पर डायमंड की तरह हम ज्वेलरी में भी नंबर वन बन सकते हैं.

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer