खरीफ खाद्यान्न उत्पादन 1445.2 लाख टन होने का अनुमान

गन्ने व कपास जैसे नकदी फसल की उपज अच्छी होने की उम्मीद
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । केद्रीय कृषि मंत्री नरेद्र सिंह तोमर ने 16 अक्टूबर 2020 को कहा कि कृषि क्षेत्र पर कोरोना महामारी का अधिक असर नहीं हुआ है।उन्होंने कहा कि 2020-21 के खरीफ सत्र में 1445.2 लाख टन खाद्यान्न का उत्पादन होने का अनुमान है। वहीं 2019-20 के खरीफ सत्र में खाद्यान्न उत्पादन 1433.8 लाख टन हुआ था।उल्लेखनीय है कि इस समय खरीफ फसलों की कटाई चल रही है जिसमें धान मुख्य खरीफ फसल है।
श्री तोमर ने कहा कि खाद्यान्न उत्पादन पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर होगा।ऐस में शुरुआती अनुमान के तहत 2020-21 खरीफ मौसम में खाद्यान्न उत्पादन 1445.2 लाख टन होने का अनुमान है।उन्होंने कहा कि गन्ने और कपास जैसे नगदी फसलों का उत्पादन भी अच्छा होने की उम्मीद है।उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बावजूद इस वर्ष खरीफ फसलों की बोआई क्षेत्र में रिकॉर्ड 4.51 प्रतिशत की वृद्वि हुई है और यह 1,121.75 लाख हेक्टेयर हो गया है।उन्होंने कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था का आधार है।जिसके तहत वित्त वर्ष 2020-21 के पहली तिमाही में यह क्षेत्र 3.4 प्रतिशत बढा है।

© 2020 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer