सूरत में एम्ब्राइडरी के पांच व्यापारियों के साथ जीएसटी के नाम पर 40.60 लाख की ठगी

सूरत में एम्ब्राइडरी के पांच व्यापारियों के साथ जीएसटी के नाम पर 40.60 लाख की ठगी
एम्ब्राइडरी का जॉबवर्क करने वाले 5 व्यापारियों को बेंचे गए माल के साथ ली गई जीएसटी के नाम पर 40.60 लाख रु. की रकम सरकार में जमा न कराकर ठगी करने वाले खोडल कृपा आर्ट के संचालक जीतू वसाणी के खिलाफ चौक बाजार पुलिस स्टेशन में ठगी का केस दर्ज किया गया। पहले जीतू वसाणी की जीएसटी चोरी में गिरफ्तारी हुई थी। 
डबोली चार रास्ता श्रीजी नगरी सोसायटी में रहने वाले और एम्ब्राइडरी जाबवर्क करने वाले विशाल गाबाणी ने शिकायत में कहा कि दो वर्ष पहले रघुकुल मार्केट में जीतु वासाणी (चित्रकूट कोसायटी, कतार गाम) के साथ परिचय हुआ था। तब जीतू ने शुभम इंडस्ट्रीज और हरिओम इंडस्ट्री में खोडल आर्ट से बड़े पमाने पर वेल्वेट कपड़ा और जरी-धागा की बिक्री की उसके बाद विशाल गाबाणी और उनके परिचितों, संबंधियों ने जीतू वासाणी के साथ व्यापार किया और उसके पास से जो भी कपड़ा खरीदा था उसका जीएसटी सहित भुगतान जीतू वासाणी को अदा कर दिया था। जीएसटी नंबर के आधार पर जीएसटी विभाग द्वारा इन तमाम एम्ब्राइडरी के व्यापारियों को नोटिस दी गई। इसके बारे में व्यापारियों ने जीएसटी विभाग को जीतू वासाणी को जीएसटी की रकम अदा करने की जानकारी दी। एम्ब्राइडरी के व्यापारियों ने चौक बाजार पुलिस थाने में जीतू के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने जीतू के खिलाफ गुनाह दर्ज किया। तीन महीना पहले जीएसटी विभाग ने भी जीतू को गिरफ्तार किया था। छूटने के बाद शिकार होने वाले व्यापारियों ने पैसा मांगा तो जान से मारने की धमकी दी थी। चौक बाजार पुलिस मामले की जांच कर रही है।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer