पहली जून से गोल्ड ज्वेलरी पर होगी हॉलमार्किंग अनिवार्य

पहली जून से गोल्ड ज्वेलरी पर होगी हॉलमार्किंग अनिवार्य
नई दिल्ली । सोने के गहनों और अन्य कलाकृतियों पर पहली जून से हॉलमार्किंग लागू कर दी जाएगी।जिसको लेकर केद्र सरकार की तरफ से पूरी तैयारी कर ली है।स्वर्ण आभूषणों व अन्य वस्तुओं की शुद्वता प्रमाणित करने के लिए गोल्ड हॉलमार्किंग की जाती है जो कि देश में फिलहाल स्वैच्छिक है।
दरअसल केद्र सरकार ने नवम्बर 2019 को घोषणा की थी कि देश भर में गोल्ड हॉलमार्किंग 15 जनवरी 2021 से वैधानिक की दी जाएगी।जिसको लेकर ज्वैलर्स की मांग पर केद्र सरकार ने उन्हें साल भर से अधिक का समय दिया था ताकि वह भारतीय मानक ब्यूरो (बीआइएस) में खुद का पंजीकृत कराकर इसकी तैयारियां पूरी कर लें।जिसको लेकर कोरोना महामारी का हवाला देकर  ज्वैलर्स ने इसके लिए और चार माह का वक्त और मांगा था।जिसको लेकर केद्रीय उपभोक्ता मामलों के सचिव लीना नंदन ने वर्चुअल प्रेसवार्ता में कहा कि हॉलमार्किंग को लागू करने के लिए अब समय नहीं बढाया जाएगा।जिसको लेकर बीआइएस के महानिदेशक प्रमोद कुमार तिवारी ने कहा कि पहली जून से इसे लागू करने की तैयारी पूरी कर ली गई है। अभी तक और समय बढाने को कोई प्रस्ताव केद्र सरकार के पास नहीं पहुंचा है।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer