चीन की कैस्टर ऑयल में मांग से सीड के दाम जुलाई तक दस फीसदी बढ़ने की आस

मुंबई। कैस्टर ऑयल में चीन से निकली अच्छी मांग से बीते तीन महीनों में कैस्टर सीड के दाम 11 प्रतिशत बढ़ चुके हैं जबकि जुलाई तक इसमें और 10 फीसदी का इजाफा होने की संभावना है। कारोबारियों के मुताबिक गुजरात के मुख्य बाजारों में कैस्टर सीड के दाम 4950-5500 रुपए प्रति क्विंटल पहुंच सकते हैं जो वर्तमान में 4500-5000 रुपए प्रति क्विंटल चल रहे हैं। लक्ष्मी कैमिकल्स, जूनागढ़ के रमेश पटेल का कहना है कि क्रशिंग मिलों के पास अब स्टॉक काफी कम है एवं वे कैस्टर ऑयल की निर्यात मांग को पूरा करने के लिए बाजार से कैस्टर सीड की खरीद कर रही हैं। कोरोना की दूसरी लहर की वजह से लगे लॉकडाउन या स्वतब् लॉकडाउन से बाजार में कैस्टर सीड की सप्लाई कमजोर है लेकिन मिलें तेल की मांग को पूरा करने  के लिए सीड की खरीद के पूरे प्रयास कर रही हैं। कारोबारियों का कहना है  कि कैस्टर की बोआई जुलाई-अगस्त में होने से पहले सीड के दाम तेजी से ऊपर चढ़ सकते हैं। दूसरी ओर, कैस्टर ऑयल अखाद्य तेल हैं, लेकिन खाद्य तेलों के बढ़े दामों का इसको पूरा सपोर्ट मिला है। कैस्टर सीड के दाम वर्तमान में पिछले साल के समान समय की तुलना में तकरीबन 30 फीसदी बढ़े हैं जबकि सोया ऑयल और पाम ऑयल के दाम तकरीबन 50 फीसदी चढ़े हैं। 
साल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मुताबिक अप्रैल 2021 में कैस्टर ऑयल का निर्यात अप्रैल 2020 की तुलना में 38 फीसदी बढ़कर 57226 टन पहुंच गया। यह निर्यात वित्त वर्ष 2020-21 में 18.7 फीसदी बढ़कर 6.50 लाख टन के करीब पहुंच गया। बता दें कि भारतीय कैस्टर ऑयल का सबसे बड़ा खरीददार चीन है एवं उसकी खरीद को देखते हुए यह माना जा रहा है वह इसका बड़ा स्टॉक करने में लगा है। चीन के अलावा जापान, अमरीका और यूरोपीयन देश भी भारत से कैस्टर ऑयल की खरीद करते हैं। इसका उपयोग प्लास्टिक, कॉस्मैटिक्स, कैंडल्स, पेंटिंग मटीरियल और मेडिकल में बड़े पैमाने पर होता है। 
दूसरी ओर, कुछ कारोबारियों का मानना है कि मार्केट यार्ड खुलने पर किसान तेजी से बाजार में कैस्टर सीड बेचने आएंगे। अभी अचानक मंडियां बंद होने से वे कैस्टर बेच नहीं सके। गुजरात की मंडियों में कैस्टर की आवक शुक्रवार को तकरीबन 90 हजार बोरी (प्रति बोरी 75 किलोग्राम) रही है जो गुरुवार को 80 हजार बोरी थी। मौसम विभाग ने देश में इस साल मानसून सामान्य रहने की भविष्यवाणी की है जिसे देखते हुए कैस्टर की बोआई अगले सीजन में बढ़ने की संभावना है। साथ ही कैस्टर सीड के दाम मजबूत बने रहते हैं तो बोआई में इजाफा हो सकता है।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer