रेडीमेड वस्त्रों में कारोबार सुधार की राह पर

कारोबार का दायरा आगे और बढ़ने की उम्मीद  
हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । इस समय दिल्ली के थोक रेडीमेड वस्त्र बाजार गांधीनगर में अगले त्योहारी, वैवाहिक व शीतकालीन मौसम की तैयारी अंतिम दौर में है। ऐसे में रेडीमेड वस्त्रों में दिसावरों की त्योहारी ग्राहकी चल पड़ी है और थोक कारोबार सुधार की राह पर है।ऐसे में रेडीमेड वस्त्रों के थोक कारोबार का दायरा आगे व्यापक रुप से बढने की उम्मीद है।
दरअसल दिल्ली के गांधीनगर व आसपास के क्षेत्रों में संचालित लघु रेडीमेड वस्त्र इकाइयों में उत्पादित रेडीमेड वस्त्र अपेक्षाकृत काफी सस्ते होते है।जिससे दिल्ली के गांधीनगर रेडीमेड वस्त्रों के थोक बाजार में रेडीमेड वस्त्रों की खरीदारी को लेकर देश भर के ग्रामीण व छोटे कस्बों से लेकर शहरों तक के ग्राहक सर्वाधिक आते रहते है क्योंकि उन्हें सस्ते परिधान खरीदने का सुनहरा मौका मिलता है और बिक्री करने में भी काफी सहूलियत होती है।चूंकि पिछले कुछ वर्ष़ों से त्योहारी, उत्सवों सहित मौसम आधारित रेडीमेड वस्त्रों के उत्पादन में दिल्ली के गांधीनगर व आसपास की लघु रेडीमेड वस्त्र इकाइयों में महारत हासिल कर लिया है।जिसके तहत यहां के लघु उद्यमी रेडीमेड वस्त्रों में फिनिशिंग व साइनिंग उत्कृष्ट करवाते हैं और इसमें नई डिजाइन, पेटर्न,कलर व लुक से समाहित होती है।जिलसमें गजब की आकर्षण होती है और अग्रणी ब्रांडों के कमेबेश अनुरुप ही होते है। जिसमें दिसावरी ग्राहकी को खरीदारी करने में अच्छा खासा पोसाता भी है।जिससे दिल्ली के गांधीनगर की लघु रेडीमेड वस्त्र इकाइयों में उत्पादित रेडीमेड वस्त्रों की दिसावरों में बारहों महीने बिक्री अपेक्षाकृत बेहतर रहती है। हालांकि अब अगले त्योहारी,वैवाहिक व शीतकालीन मौसम को लेकर दिल्ली के गांधीनगर के थोक व्यापारियों की तरफ से सभी किस्मों के रेडीमेड वस्त्रों की तैयारी को अंतिम रुप देने में जुटे हुए है। इसीबीच पिछले कुछ अर्से से स्थानीय थोक व्यापारियों के पास दुर्गा पुजा को लेकर रेडीमेड वस्त्रों की फøसी किस्मों में पूर्वोत्तर भारत की मांग चल पड़ी है और आगे थोक कारोबार बेहतर निष्पादित होने की उम्मीद है। जिसके तहत जेन्ट्स के लिए कॉटन की डिजाइनर शर्ट्स, टी-शर्ट, कुर्ता-पायजामा सहित कॉटन-निटिंग, डेनिम-निटिंग व पोली निटिंग की पøट व कॉटन की ट्राचऊजर में थोक कारोबार सकारात्मक बन रखा है और आगे भी कारोबार बेहतर रहेगा।
वहीं लेडीज के लिए कॉटन की गाउन व नाइटी एवं सलवार सूट्स में थोक कारोबार खुल रखा है और आगे कारोबार का दायरा बढने की उम्मीद है।वहीं युवतियों के लिए कॉटन की कुर्तिया, लैगिंग, जैगिंग, टॉप्स, जींस पेंट, शॉर्टस आदि में थोक कारोबार खुल गया है और आगे कामकाज अच्छा चलेगा। वहीं छोटी बच्चियें को लेकर डेनिम-पøट,डेनिम-टॉप, फ्रॉक आदि में थोक बिक्री अच्छी है और आगे थोक कारोबार बेहतर निष्पादित होगा।वहीं छोटे बच्चों के लिए कॉटन की डिजाइनर शर्ट,टी-शर्ट,कुर्ता-पायजामा, बाबासूट आदि की थोक बिक्री अच्छी है और आगे कारोबार के अच्छे आसार नजर आ रहे है।वहीं अगले वैवाहिक व शीतकालीन मौसम को लेकर स्थानीय थोक बाजार में लुधियाना, अमृतसर, कोलकाता, मुंबई, तिरपुर जैसे उत्पादन केन्दों से वूलन व होजरी किस्मों की रेडीमेड वस्त्रों की आपूर्ति होने लगी है।जिसमें दिसावरी ग्राहकी की पूछपरख भी शुरु हो रखी है।जिसमें आगे थोक कारोकार में सुधार के आसार नजर आ रहे है बशर्ते की मौसम में बदलाव होते है और नमी होते ही गर्म परिधानों की मांग में सुधार बनेंगे।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer