उत्तर प्रदेश में टेक्सटाइल और गार्म़ेंट्स की स्थापित हो रही नई इकाइयां

उत्तर प्रदेश में टेक्सटाइल और गार्म़ेंट्स की स्थापित हो रही नई इकाइयां
गौतमबुद्ध नगर में बनेगा टेक्सटाइल पार्क  
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में अगले तीन महीनों में गाजियाबाद, नोएडा और कानपुर में नई स्थापित हुई छह कपड़ा मिलों उत्पादन शुरू होने की संभावना है। इसमें 97 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है और 1500  से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा।  
इसके अलावा  उत्तर प्रदेश सरकार ने 10  नई कपड़ा मिलों को भूमि आबंटित किया है, जिसमें 442 करोड़ रुपये का निवेश होगा और 2713 लोगों को रोजगार मिलेगा।   
गौतमबुद्ध नगर में एक टेक्सटाइल पार्क बनेगा, जबकि मथुरा में 300 करोड़ रुपये की लागत से एक बड़ी टेक्सटाइल मिल आ रही है।   पिछले चार वर्ष़ों में 66 उद्यमियों ने उत्तर प्रदेश के इस क्षेत्र में 8715,16 करोड़ रुपये का निवेश किया है। इन 66 कपड़ा मिलों से 5.25 लाख लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। राज्य में अब तक इन 66 कपड़ा मिलों में से 15 टेक्सटाइल मिलों  की स्थापना की जा चुकी है। इन कारखानों के निर्माण में 756.91 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है।  
जीएलकेके इंडस्ट्रीज- कानपुर में कपड़े के उत्पादन के लिए अब तक 25 करोड़ रुपये का निवेश किया है। सृष्टि इंडस्ट्रीज ने ग्रामीण कानपुर में बुनाई की फैक्ट्री स्थापित की है। गेजेस एपरल गारमेंट्स तथा अनिलिका फैब्रिक्स ने कानपुर में होजियरी क्लॉथ मिल की स्थापना की है। राजलक्ष्मी कॉटन मिल्स ने नोएडा में 50 करोड़ रुपये के निवेश से रेडीमेड गारमेंट इकाई स्थापित की गई है। कल्याणी इनरवेयर कंपनी ने गाजियाबाद में एक इनर गारमेंट फैक्ट्री स्थापित की है।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer