गुजरात में खादी की बिक्री ने सारे रिकॉर्ड तोड़े

हमारे संवाददाता
नई दिल्ली । प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी की अपील के चलते इस बार गांधी जयंती पर महात्मा गांधी की भूमि गुजरात खादी उत्पादों की भारी बिक्री दर्ज की गई।जिसके तहत इस वर्ष गांधी जयंती पर गुजरात के सभी 311 खादी इंडिया केद्रों पर खादी उत्पादों की कुल बिक्री 3.25 करोड़ रुपए रही।गुजरात में इस वर्ष खादी की बिक्री में 33.12 लाख रुपए की बढोतरी हुई है जो कि 2020 की तुलना में 11.32 प्रतिशत अधिक है।वहीं गुजरात में गांधी जयंती पर खादी की सकल बिक्री 2.92 करोड़ रुपए की हुई।कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते गुजरात को कुछ माह पूर्व बुरी तरह से प्रभावित किया था।जिसके बाद की स्थिति को देखते हुए इस वर्ष खादी की बिक्री का आंकड़ा काफी अधिक है।
दरअसल खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) की तरफ से खादी की बिक्री को बढावा देने को लेकर अहमदाबाद, बड़ौदा,सूरत और राजकोट रेलवे स्टेशन पर आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रुप में प्रदर्शनी और बिक्री केद्र स्थापित किए थे जहां खादी की 5.14 लाख रुपए की बिक्री दर्ज की गई।इसके अतिरिक्त केवीआईसी की तरफ से अहमदाबाद में साबरमती रिबर फंट,स्पेस एप्लीकेशन सेंटर,इसरो और जीएसटी मुख्यालयों में विशेष खादी प्रदर्शनियों का आयोजन किया गया जिसमें खादी उत्पादों की क्रमश: 3.94 लाख रुपए,6.42 लाख रुपए और 2.25 लाख रुपए की बिक्री हुई।जिसको लेकर केवीआईसी के अध्यक्ष श्री विनय कुमार सेक्सेना ने खादी को खरीदने और बढावा देने का श्रेय प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी की लगातार अपील और गुजरात की जनता के खादी को पहनने और अपनाने को दिया।उन्होंने कहा कि केवीआईसी चुनौतियों के बावजूद उच्चतम गुणवत्ता मानकों को बनाए रखते हुए बड़े उपभोक्ता आधार को पूरा करने के लिए लगातार नए उत्पाद जोड़ रहा है।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer