राजस्थान में खरीफ फसलों की सरकारी खरीदी नवंबर से होगी शुरू

डी. के.
मुंबई। राज्य के किसानों को आर्थिक संकट न उठाना पड़े उसके लिए शीघ्र ही समर्थन भाव पर खरीफ फसलों की खरीदी शुरू करने की राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा केद्र सरकार को सिफारिश करने के कुछी घंटों में गतिविधियां तेज हो गयी है। मूंग, उड़द, सोयाबीन तथा मूंगफली की खरीदी शुरू करने का चक्र गतिमान हो गया है। घोषणा के अनुसार उपर्युक्त फसलों की खरीदी के लिए किसानों का आनलाइन रजिस्ट्रेशन 20 अक्टूबर से शुरू होगा और नवंबर में खरीदी शुरू होगी। यदि किसानों को रजिस्ट्रेशन नहीं कराना है तो उसके माल के समर्थन भाव पर खरीदी नहीं हो सकती। इसके अलावा किसानों की खेती जो तहसील क्षेत्र में आती हो उस केद्र पर ही रजिस्ट्रेशन कर माल बेचना होगा। अन्य तहसील में माल बेचने से उन्हें समर्थन भाव का लाभ नहीं मिलेगा।
सरकार के अनुसार मूंग, उड़द तथा सोयाबीन की खरीदी एक नवंबर से और मूंगफली की खरीदी 18 नवंबर से शुरू की जाएगी। राजस्थान में मूंग की खरीदी के लिए 357 तथा उड़द की खरीदी के लिए राज्य में 168 केद्र खोले जाएंगे। इसी प्रकार सोयाबीन के लिए 86 तथा मूंगफली के लिए 257 केद्र शुरू किए जाएंगे। किसानों की सुविधा के लिए ई-मित्र पर आनलाइन के अलावा खरीद केद्रों पर सीधे रजिस्ट्रेशन की सुविधा की गयी है। किसानों को उनका जनाधार कार्ड और मोबाइल नंबर के साथ लिंक करना रहेगा और माल बिकने के बाद धन उनके खाते में सीधे जमा हो जाएगा। वित्त की सुरक्षा के लिए किसान को अपने खाते की कापी भी जोड़ने का सुझाव दिया गया है, जिससे खाता नंबर गलत न हो और धन का अनुचित उपयोग न हो।           

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer