नेपाल से आ रहे नकली माल के कारण दार्जिलिंग चाय को नुकसान

गोवाहटी। केनिया और श्रीलंका से आयातित सस्ती चाय की चुनौती वर्ष़ों से झेल रहे भारतीय चाय उद्योग अब नेपाल से आने वाली नकली दार्जिलिंग चाय की चुनौती बढ़ रही है।  
टी एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अनुसार नेपाल में उत्पन्न होने वाली चाय प्रीमियम दार्जिलिंग चाय के तौर पर बेची जा रही है। इस संबंध में चिंता जताते हुए भारतीय चाय उद्योग ने बताया कि इससे भारतीय दार्जिलिंग चाय का नाम और गुणवत्ता बदनाम होने की संभावना है। फलत: उत्तम दार्जिलिंग चाय का वास्तविक भाव मिलना मुश्किल होगा।  चाय उद्योग के सूत्रों के अनुसार नेपाल की हल्की दार्जिलिंग के नाम से बेची जाने वाली चाय के आयात को रोकना जरूरी है।  भारतीय चाय उद्योग के अनुसार वर्ष 2009 में नेपाल और भारत के बीच मुक्त व्यापार संधि होने से नेपाली चाय उत्पादक इसका दुरूपयोग कर रहे है जिसे रोकने के लिए नए सिरे से मुक्त व्यापार संधि की रचना आवश्यक है।   

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer