भारत में सोयाबीन के उत्पादन अनुमान को यूएसडीए ने बढ़ाया

भारत में सोयाबीन के उत्पादन अनुमान को यूएसडीए ने बढ़ाया
वाशिंग्टन। अमरीकी कृषि विभाग (यूएसडीए) ने अपनी ताजा रिपोर्ट में वैश्विक तिलहन के उत्पादन में हल्की कमी आने का अनुमान जताया है। अर्ज़ेंटीना और अमरीका में सोयाबीन, के उत्पादन में होने वाली कमी की कुछ भरपाई भारत में बढ़ने वाले उत्पादन से होगी। ईरान में रेपसीड, यूरोपीयन संघ में सनफ्लावर सीड और आस्ट्रेलिया एवं ब्राजील में कॉटन सीड का उत्पादन बढ़ने की संभावना है। यूएसडीए ने सोयाबीन का औसत दाम वर्ष 2021-22 के लिए 25 सेंटस घटाकर 12.10 डॉलर प्रति बुशेल किया है। जबकि वर्ष 2020-21 के लिए इसे 10.80 डॉलर प्रति बुशेल पर कायम रखा है। वर्ष 2021-22 में समूची दुनिया में तिलहन का उत्पादन 62.80 करोड़ टन रहने का अनुमान है जो बीते महीने 62.82 करोड़ टन था। 
यूएसडीए ने वर्ष 2021-22 में समूची दुनिया में सोयाबीन का उत्पादन 38.40 करोड़ टन रहने का अनुमान जताया है, यह अनुमान पिछले महीने 38.51 करोड़ टन था। जबकि वर्ष 2020-21 में समूची दुनिया में सोयाबीन का उत्पादन अनुमान 36.62 करोड़ टन आंका है। वर्ष 2019-20 में यह उत्पादन 33.98 करोड़ टन था। वर्ष 2021-22 में अमरीका में सोयाबीन उत्पादन अनुमान 12.04 करोड़ टन आंका है जो वर्ष 2020-21 में 11.47 करोड़ टन रहने की संभावना है। वर्ष 2019-20 में यह 9.66 करोड़ टन रहा। ब्राजील में वर्ष 2019-20 में सोयाबीन उत्पादन 12.85 करोड़ टन रहा जो वर्ष 2020-21 में 13.80 करोड़ टन रहने का अनुमान है। जबकि, वर्ष 2021-22 में इसके 14.40 करोड़ टन रहने की संभावना है। 
अर्ज़ेंटीना में सोयाबीन का उत्पादन वर्ष 2019-20 में 4.88 करोड़ टन रहा जिसके वर्ष 2020-21 में 4.62 करोड़ टन एवं वर्ष 2021-22 में 4.95 करोड़ टन रहने का अनुमान है। चीन में सोयाबीन का उत्पादन वर्ष 2021-22 में 1.90 करोड़ टन और वर्ष 2020-21 में 1.96 करोड़ टन रहने का अनुमान है। चीन में वर्ष 2019-20 में सोयाबीन का उत्पादन 1.81 करोड़ टन रहा। यूएसडीए का कहना है कि वर्ष 2020-21 में चीन का सोयाबीन आयात वर्ष 2019-20 के 9.85 करोड़ टन से बढ़कर 9.97 करोड़ टन रहने की संभावना है। यह आयात वर्ष 2021-22 में 10 करोड़ टन रहने का अनुमान है। 
यूएसडीए ने अपनी रिपोर्ट में वर्ष 2021-22 में ब्राजील का सोयाबीन निर्यात वर्ष 2020-21 के 8.16 करोड़ टन से 9.40 करोड़ टन रहने का अनुमान जताया है। अमरीका का सोयाबीन निर्यात अनुमान वर्ष 2021-22 में 5.57 करोड़ टन रहने के आसार है जबकि वर्ष 2020-21 में यह 6.16 करोड़ टन रहने की संभावना है। अर्ज़ेंटीना का 2021-22 में सोयाबीन निर्यात 53.50 लाख टन रहने की संभावना है। इसके वर्ष 2020-21 में 51.92 लाख टन रहने के आसार हैं। पेरुग्वे का 2021-22 में सोयाबीन निर्यात 65 लाख टन रहने की संभावना है। इसके वर्ष 2020-21 में 66 लाख टन रहने के आसार हैं। 
अमरीकी कृषि विभाग के मुताबिक भारत में वर्ष 2021-22 में सोयाबीन का उत्पादन 119 लाख टन रहने का अनुमान जताया है। यह आंकलन पिछले महीने 110 लाख टन था। यह उत्पादन वर्ष 2020-21 में 104.50 लाख टन और वर्ष 2019-20 में 93 लाख टन रहा। भारत में वर्ष 2019-20 में 84 लाख टन सोयाबीन क्रश हुई जो वर्ष 2020-21 में 95 लाख टन पहुंच गई। जबकि, वर्ष 2021-22 में इसके 100 लाख टन रहने की संभावना है। समूची दुनिया में वर्ष 2019-20 में सोयाबीन का अंतिम स्टॉक 9.54 करोड़ टन रहा। यह वर्ष 2020-21 में बढ़कर 10.01 करोड़ टन रह सकता है। जबकि, वर्ष 2021-22 में दुनिया में सोयाबीन का अंतिम स्टॉक 10.37 करोड़ टन रहने का अनुमान है। यह अनुमान पिछले महीने 10.45 करोड़ टन था।

© 2021 Saurashtra Trust

Developed & Maintain by Webpioneer